ब्रेकिंग
Harda news: अज्ञात युवक की लाश मिली ,कड़ोला नदी के पास पुलिस जांच में जुटी ! सावन के पहले सोमवार महाकालेश्वर मन्दिर मे भक्तों की भीड़,  रात 2:30 से खुले मन्दिर के पट मन्दिर प्रश... Aaj Ka Rashifal | राशिफल दिनांक 22 जुलाई 2024 | जानिए आज क्या कहते है आपके भाग्य के सितारे खरगोन बेड़ियां: महिला पर जानलेवा हमला करने वाले फरार आरोपी को बेड़िया पुलिस ने किया गिरफ्तार, भेजा जे... हंडिया : भगवान कुबेर की तपोभूमि पर गुरु आश्रमों में भक्ति भाव व श्रद्धा के साथ मनाया गया गुरु पूर्णि... सदबुद्धि यात्रा (हरदा ब्लास्ट पीड़ित द्वारा हरदा से हंडिया तक) अर्थ ग्रीन इनिशिटेटित के तहत किया गया वृक्षारोपण किया बैंक ऑफ बड़ौदा खातेगांव शाखा में मनाया गया 117 वाँ स्थापना दिवस खातेगांव: नगर के शक्ति केंद्र क्रमांक 3 के 6 मतदान केदो के पोलिंग एजेंट का सम्मान जैन समाजजनों ने की भव्य आगवानी: मुनिश्री वीरसागरजी महाराज ससंघ का सिद्धोदय सिद्धक्षेत्र में हुआ मंगल...

नोएडा में FBDOI के द्वारा राष्ट्रीय कार्यशाला का आयोजन, जय महाराणा रक्तदान समूह भारत खंडवा, हरदा की टीम हुई सम्मिलित

नोएडा सस्था के संस्थापक/अध्यक्ष रक्तमित्र शैलू मंडलोई ने बताया कि 14, 15 और 16 जून, 2024 को एक राष्ट्रीय कार्यशाला का आयोजन जैविक संस्थान (NIB), नोएडा, उत्तर प्रदेश, भारत सरकार का स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्रालय, और भारत की रक्तदाता संगठनों का महासंघ (FBDOI)के सहयोग से

NTB, नोएडा हॉस्टल बिल्डिंग में 3 दिवसीय कार्यकम आयोजित किया गया। इस कार्यकम मे मध्यप्रदेश की जय महाराणा रक्तदान समूह भारत खंडवा, के रक्तमित्र शैलू मंडलोई एव हरदा टीम के संचालक रक्तमित्र परमानंद बघेल के साथ साथ देश की अन्य राज्यो के जिलों के संगठनों के साथ समाजसेवी भी सम्मिलित हुए साथ ही जय महाराणा रक्तदान समूह भारत टीम के द्वारा अखंडभारत रक्तसेवा सम्मान एव,यूनिटी ऑफ इंडिया सम्मान पत्र फ़ोटो फ्रेम के द्वारा FBDOI संस्था को देकर सम्मानित किया सम्मानित कियावर्ल्ड ब्लड डोनर डे के अवसर पर सभी संगठनों के सदस्यों के द्वारा NIB, नोएडा के आसपास 1.9 किलोमीटर की वॉक आयोजित की गई। वॉक का आरंभ लेबर चौक, नोएडा से हुआ और समापन NIB, नोएडा पर किया गया।

जिसकी अध्यक्षता श्री सुभाष मणि सिंह ने की।

डाउन मेमोरी लेन” नामक डॉक्यूमेंटरी प्रस्तुत की गई, 

इस कार्यकम के मुख्य उद्देश्य 

“हर घर रक्तदाता” अभियान की शुरुआत। , अंतर्राष्ट्रीय और राष्ट्रीय स्वैच्छिक रक्तदान परिदृश्य। , स्वास्थ्य प्रणाली में रक्त सेवाओं का महत्व। , WHO रक्त संक्रमण सेवाओं का विश्व परिदृश्य। , भारत में थैलेसीमिया की चुनौतियाँ। , स्वैच्छिक रक्तदान में सरकारी/कॉर्पोरेट/निजी भागीदारी।, रक्त और रक्त घटकों का तर्कसंगत उपयोग और हेमोविजिलेंस कार्यक्रम। , रक्त दाता की अस्वीकृति और संक्रमण प्रतिक्रिया। ,योगिक जीवन शैली के माध्यम से 100% स्वैच्छिक रक्तदान की उपलब्धि।

इस सत्र में पुरुस्कार वितरण समाहरोह का भी आयोजन किया गया सम्मिलित हुए सभी संस्थाओं एव उनके सदस्यों को जिसमें विभिन्न रक्तदाता संगठनों और व्यक्तिगत रक्तदाताओं को सम्मानित किया गया।

- Install Android App -

इस सत्र में विभिन्न विषयों पर विशेषज्ञों ने अपने विचार प्रस्तुत किए और स्वास्थ्य प्रणाली में रक्तदान की महत्वपूर्णता पर चर्चा की।

इस तीन दिवसीय कार्यशाला का मुख्य उद्देश्य स्वैच्छिक रक्तदान के प्रति जागरूकता बढ़ाना और हेमोविजिलेंस तथा रक्तदाता निगरानी के महत्व को समझाना था। सभी प्रतिभागियों को इस महत्वपूर्ण कार्यक्रम में सक्रिय रूप से भाग लेने और अपने योगदान के लिए धन्यवाद दिया गया।

इस कार्यशाला ने रक्तदान के प्रति समाज में रक्तदान की जागरूकता फैलाने और इसे एक नियमित प्रक्रिया बनाने की दिशा में एक महत्वपूर्ण कदम उठाया। आयोजन समिति ने सभी प्रतिभागियों से अनुरोध किया कि रक्तदान के प्रति समाज में जागरूकता फैलाने और इसे एक नियमित प्रक्रिया बनाने की दिशा में एक महत्वपूर्ण कदम उठाये। आयोजन समिति ने सभी प्रतिभागियों से अनुरोध किया कि वे अपने-अपने क्षेत्रों में स्वैच्छिक रक्तदान को प्रोत्साहित करें और इस महान कार्य में अपना योगदान दें।

Don`t copy text!