ब्रेकिंग
असदुद्दीन ओवैसी ने किया बाबू सिंह कुशवाहा और भारत मुक्त मोर्चा के साथ गठबंधन, निकाला 2 CM का फॉर्मूल... ओडिशा में 927 बच्चे Covid पॉजिटिव, 7 मरीजों की मौत- UP में स्कूल कॉलेज 30 जनवरी तक बंद कोरोना के बढ़ते मामले ने बढ़ाई चिंता, पूर्ण लॉकडाउन की घोषणा, इन चीजों पर रहेगा प्रतिबंध Elections 2022: चुनाव आयोग का बड़ा फैसला, पांच राज्यों में चुनावी रैली पर जारी रहेगी पाबंदी जम्मू कश्मीर: शोपियां में शुरू हुई मुठभेड़, सुरक्षाबलों ने ढेर किया एक आतंकी गोवा चुनाव: 24 घंटे के अंदर BJP को लगा दूसरा बड़ा झटका- पूर्व मुख्यमंत्री लक्ष्मीकांत पारसेकर ने की ... MP NEWS : पत्‍नी के साथ अप्राकृतिक सेक्‍स कर नौकरों, दोस्‍तों से गैंगरेप करवाता था ये हैवान ! हरदा न्यूज़ : नवनिर्मित सिविल लाइन थाने का कृषि मंत्री कमल पटेल ने फीता काटकर किया उद्घाटन दिग्गज आइटी कंपनियों पर चीन ने कसा शिकंजा, गतिविधियों और वित्तीय क्षेत्र में निवेश पर पाबंदी हाउती ने संघर्ष बढ़ने पर विदेशी कंपनियों से UAE छोड़ने को कहा, जानें क्‍या है पूरा मामला

पूर्व नौसेना कर्मी पर लगा ट्रंप व अन्य नेताओ को मारने का आरोप

सॉल्टः अमरीका में एक पूर्व नौसेना कर्मी पर राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप और अन्य नेताओं को पत्र भेजकर जैविक जहर का इस्तेमाल करने की धमकी देने का आरोप लगाया गया है। इन पत्रों में कास्टर के बीज थे जिनसे राइसिन जहर निकलता है।  एफबीआई के जांच अधिकारियों ने यूटा की एक जिला अदालत में दायर किए गए दस्तावेजों में बताया कि विलियम क्लाइड एलेन तृतीय (39) ने जांचकर्ताओं को बताया कि वह एक संदेश देने के लिए पत्र भेजना चाहता था हालांकि उसने विस्तार से इसके बारे में नहीं बताया।  शिकायत के अनुसार, लिफाफे पर उसका पता पाने के बाद अधिकारियों ने एलेन पर ध्यान केंद्रित किया।
दस्तावेजों में कहा गया है कि पत्रों में राइसिन जहर होने की पुष्टि हुई और इसमें कुछ लिखा भी था, ‘‘जैक एंड द मिसाइल बीन स्टॉक’’।  यूटा के लिए अमेरिकी अटॉर्नी जॉन ह्यूबर ने एलेन की मानसिक स्थिति पर टिप्पणी करने से इनकार कर दिया लेकिन कहा कि ‘‘मामले में कोई भी हास्यास्पद बात नहीं है। अदालत में शुक्रवार को सुनवाई के दौरान एलन यह बताते हुए रो पड़ा कि उसकी पत्नी को रीढ़ की हड्डी में दिक्कत है और वह उसकी मदद करता है। वह अपने परिवार के सदस्यों को देखकर मुस्कुराया। उसने याचिका दायर नहीं की और उसके वकील लिन डोनाल्डसन ने इस पर टिप्पणी नहीं की है। अगर जैविक जहर देने के आरोप में एलेन को दोषी ठहराया जाता है तो उसे उम्रकैद हो सकती है। उस पर खत के जरिए धमकी देने के भी चार आरोप है जिसमें उसे 10 साल की सजा हो सकती है।
अधिकारियों ने बताया कि ये पत्र राष्ट्रपति, एफबीआई निदेशक क्रिस्टोफर व्रे, रक्षा मंत्री जिम मैटिस और नौसेना के शीर्ष अधिकारी एडमिरल जॉन रिचर्डसन को भेजे गए थे। पत्रों का समय रहते पता लगा लिया गया और किसी को भी नुकसान नहीं पहुंचा। एफबीआई ने बताया कि सभी पत्र राइसिन जहर के लिए पॉजीटिव पाए गए। एलेन ने जांच अधिकारियों को बताया कि उसने महारानी एलिजाबेथ द्वितीय, रूसी राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन और वायु सेना के सचिव को भी इसी तरह के पत्र भेजे थे। हालांकि, यह स्पष्ट नहीं है कि वे लिफाफे पाए गए हैं या नहीं।
यह मामला ग्रैंड ज्यूरी के समक्ष जाने की उम्मीद है और एलेन 18 अक्टूबर को सुनवाई के दौरान अतिरिक्त आरोपों का सामना कर सकता है। एलेन को बुधवार को सॉल्ट लेक सिटी के उत्तर में छोटे-से शहर लोगान में उसके घर से पकड़ा गया। उसने जांचकर्ताओं को बताया कि ईबे से यह सोचकर कास्टर के बीज खरीदे थे कि अगर तृतीय विश्वयुद्ध होता है तो वह अपने देश की रक्षा कर सके। नौसेना के रिकॉर्डों के अनुसार, एलेन 1998 से 2002 तक नौसेना में रहा। उसका यूटा में आपराधिक रिकॉर्ड भी है।  उसने कुछ साल पहले भी तत्कालीन राष्ट्रपति बराक ओबामा को धमकी भरे पत्र भेजे थे।

Leave A Reply

Your email address will not be published.

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More

Don`t copy text!