ब्रेकिंग
स्वस्थ शिशु प्रतियोगिता हुई आयोजित, पैरंट्स को दिए टिप्स चांदनी चौक मित्र मंडल द्वारा भव्य पंडाल में माँ दुर्गा की स्थापना, होंगे रास गरबा धार्मिक नगरी में नवरात्र की धूम : पहले दिन पांडालों में विराजी मां दुर्गा की प्रतिमाएं अम्बा में सांसद विधायक ने नलजल योजना का भूमिपूजन व सेवा सहकारी संस्था भवन का किया लोकार्पण देवतालाब में क्लस्टर स्तरीय क्रेडिट कैंप संपन्न स्वस्थ बालक बालिका स्पर्धा सम्पन्न पी.एम. सूक्ष्म खाद्य उद्योग उन्नयन योजना के तहत मिलेगी आर्थिक सहायता टंट्या मामा आर्थिक कल्याण योजना में मिलेगा 1 लाख रूपये तक का ऋण सीएम हेल्पलाइन में उत्कृष्ट कार्य करने वाले अधिकारी सम्मानित सेक्स रैकेट का भंडाफोड़, आधा दर्जन युवक-युवतियां होटल में आपत्तिजनक स्थिति में धराए

‘फेथाई’ चक्रवातः आज आंध्र प्रदेश के तटों से टकराएगा तूफान; 3 राज्यों में अलर्ट जारी, स्कूल बंद

Header Top

भुवनेश्वरः चक्रवाती तूफान ‘फेथाई’ जल्द आंध्र प्रदेश के तटों से टकराने वाला है और इसके चलते आज ओडिशा के कई हिस्सों में भारी बारिश की संभावना है। मौसम विज्ञान विभाग ने यह जानकारी दी। इसका असर आंध्र, ओडिशा और पुड्डुचेरी के तटीय क्षेत्रों में ज्यादा देखने को मिलेगा। पश्चिम-मध्य बंगाल की खाड़ी और इसके आस पास के दक्षिण-पश्चिम हिस्सों में 80-90 किलोमीटर प्रतिघंटा की रफ्तार से पहुंचने वाली हवा 100 किलोमीटर प्रतिघंटा की रफ्तार से चलने का अनुमान है जिससे इस इलाके में समुद्र में तेज लहरों की आशंका है। दक्षिण तटीय आंध्र प्रदेश, उत्तर तमिलनाडु और पुड्डुचेरी में 45-55 किलोमीटर प्रतिघंटा की रफ्तार से पहुंचने वाली हवा 65 किलोमीटर प्रतिघंटा की रफ्तार से चलने का अनुमान है जिससे इन इलाकों में समुद्र में खराब स्थिति होने की आशंका है।

इन इलाकों में भारी बारिश की संभावना
मौसम विभाग ने एक बुलेटिन में कहा कि रविवार को राज्य के कई हिस्सों गजपति, गंजम, रायगढ़ा और कालाहांडी में आसमान में घने बादल छाए रहे, जबकि चक्रवात के प्रभाव से वहां भारी बारिश होने का अनुमान है। इसके अनुसार रायगढ़ा, कोरापुट, मलकानगिरि, नबरंगपुर, कालाहांडी, कंधमाल, नौपदा, बारागढ़, बालनगीर, झारसुगुड़ा और संबलपुर जिलों में सोमवार को जबरदस्त बारिश होने का अनुमान है। मौसम विभाग ने बताया कि चक्रवात के गंभीर तूफान में बदलने की आशंका है और यह उत्तर उत्तर-पश्चिम दिशा की ओर मुड़़ जाएगा तथा सोमवार दोपहर तक ओंगोल एवं काकीनाड़ा के बीच आंध्र प्रदेश के तट से टकराएगा। मौसम विभाग ने 18 दिसंबर तक ओडिशा में कहीं हल्की से मध्यम बारिश एवं कई जगहों पर, मुख्यत: दक्षिण ओडिशा के जिलों में गरज के साथ छींटे पडऩे की संभावना जताई है।

स्कूल बंद
राज्य आपदा प्रबंधन प्राधिकरण के निदेशक पी वेंकटेश ने बताया कि राष्ट्रीय आपदा मोचन बल (एनडीआरएफ) और एसडीआरएफ को तटवर्ती जिलों गुंटूर, कृष्णा, पश्चिमी गोदावरी, पूर्वी गोदावरी और विशाखापत्तनम में रखा गया है जबकि सरकारी मशीनरी को हाई अलर्ट पर रखा गया है। एसडीआरएफ की दो टीमें (80 सदस्य) और एनडीआरएफ की दो टीमों (60 सदस्य) को सभी जरूरी उपकरणों के साथ इन जिलों में तैनात रखा गया है। चक्रवात के खतरे के मद्देनजर आठ तटवर्ती मंडलों में सभी स्कूलों में आज छुट्टी की घोषणा की है।

Shri

मछुआरों को गहरे समुद्री इलाकों में जाने की मनाही
ओडिशा तट में मछुआरों के लिए कोई आम चेतावनी जारी नहीं की गई। बहरहाल, उन्हें सोमवार तक पश्चिम मध्य एवं दक्षिण पश्चिम बंगाल की खाड़ी से सटे गहरे समुद्री इलाकों में जाने से बचने की सलाह दी गई है। ओडिशा सरकार ने जिलाधीशों को पहले ही इस बेमौसम बरसात से धान के खेतों को बचाने के लिए जरूरी कदम उठाने का निर्देश दिया है।

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More

Don`t copy text!