ब्रेकिंग
10 हजार के अंदर पाएं टॉप 5G स्मार्टफोन, कीमत के साथ फीचर्स भी है नंबर वन, देखिए लिस्ट Fixed Deposit Scheme : खुश हुए इन बैंकों के खाताधारक, 399 दिनों की एफडी पर मिल रहा ज्यादा ब्याज Harda big news: फर्जी वसीयत बनाने वाले आरोपियों को 7 साल की जेल,10 हजार जुर्माना Harda Big News : छिपाबड़ जीतू पंडित मर्डर केस, सिर में गोली मारकर हत्या करने वाला मुख्य शूटर गिरफ्ता... Harda News : गुरव समाज ने श्री महर्षि दधीचि की जयंती महोत्सव, धूमधाम से मनाया बाइक रैली निकाली। Harda News : ‘खेलो एमपी यूथ गेम्स’’ के तहत जिला स्तरीय खेल प्रतियोगिताएं 24 सितम्बर को | Harda News : ‘‘विकास रथ’’ 24 सितम्बर को से टिमरनी क्षेत्र की पंचायतों का भ्रमण कर विकास कार्यों की ज... Harda : किसानों की समस्याओं के समाधान के लिए कृषि मंत्री कमल पटेल ने जारी किया टोल फ्री नंबर | Harda News : कलेक्टर श्री गर्ग ने शांति समिति की बैठक में की अपील | Harda News : अबगांवखुर्द में ‘मतदाता सूची सशक्तिकरण शिविर’ 24 मार्च लगेंगे |

‘SC के आदेश के बाद ही आएगा अध्यादेश, पूरा देश राम-मंदिर का निर्माण देखना चाहता है’

भिंड: केंद्रीय मंत्री उमा भारती ने अपने भिंड दौरे पर उन्होंने मीडिया से बात करते हुए नदियों के संरक्षण और अवैध उत्खनन को लेकर अपनी बात रखी। उन्होंने कहा कि ‘अवैध खनन को एक ही तरीके से रोका जा सकता है। और वो है रेत माफिया को राजनीतिक संरक्षण न देकर।’ इसके बाद उमा भारती ने राम मंदिर को लेकर कहा कि इसके लिए अध्यादेश न्यायपालिका के निर्णय के बाद ही आएगा।

क्या कहा नदियों के संरक्षण के बारे में ?

केंद्रीय मंत्री उमा भारती ने भिंड जिले की कुवांरी और सिंध नदी के खोते हुए अस्तित्व को लेकर किए गए सवाल का जवाब देते हुए कहा कि, ‘सभी नदियों के विकास के लिए कार्य योजना बनाई गई है। इस योजना का मतलब है कि इनके जल का उपयोग यहां के सूखा को निपटाने के लिए किया जाए और नदियों में जल का प्रवाह बना रहे इसलिए डीसिल्टिंग करेंगे। उन्होंने कहा कि नदियों के पानी को किसानों की फसल की सिंचाई के लिए उपयोग किए जाने पर काम किया जाएगा।

अवैध उत्खनन पर क्या बोलीं उमा ? 

अवैध उत्खनन को खत्म करने को लेकर किए गए प्रश्न पर उमा भारती ने कहा कि, ‘अवैध उत्खनन रोकने का एक ही उपाए है कि इससे जुड़े माफिया को राजनीतिक संरक्षण न मिले।

राम मंदिर पर क्या बोलीं उमा ? 

राम मंदिर निर्माण को लेकर उमा भारती ने कहा कि ‘प्रधानमंत्री मोदी की बात से हम पूरी तरह से सहमत हैं। मंदिर को लेकर अध्यादेश तभी आ पायेगा जब सुप्रीम कोर्ट का आदेश आएगा। पूरा देश राम मंदिर का निर्माण देखना चाहता है। तो माननीय सुप्रीम कोर्ट भी जन भावनाओं का सम्मान करेगी, संत हो या सामान्य जन सभी चाहते हैं कि राम मंदिर का निर्माण हो।’

जीएसटी और नोटबंदी के लोकसभा चुनाव में असर पर क्या है उमा की राय ?

लोकसभा चुनाव में नोटबंदी और जीएसटी जैसे मुद्दे की चुनौतियों पर उन्होंने कहा कि पीएम मोदी ने कठोर आर्थिक निर्णय चुनाव की दृष्टि से नहीं किए, वो राष्ट्र को आगे बढ़ाने की दृष्टि से किए हैं। इसमें कालाधन एक बहुत बड़ी समस्या थी। भ्रष्टाचार कालेधन को जन्म देता था। इससे थोड़ा कष्ट तो होगा। लेकिन अंत में पूरे देश को रिलीफ होगा।

चुनाव न लड़ने पर बोलीं उमा भारती

लोकसभा चुनाव न लड़ने के सवाल पर उमा भारती ने कहा कि ‘इस विषय पर बात करने का कोई मतलब नहीं है। इसमें कोई नई बात नहीं है।’

मध्यप्रदेश में मिली हार पर उमा की राय

प्रदेश में बीजेपी की हार पर उमा ने कहा कि ‘सरकार पर किसी का पेटेंट नहीं होता, लोकतंत्र में यही होता है, कभी हम सरकार में तो कभी विपक्ष की भूमिका निभाएंगे। जो भी परिणाम आता है, वो स्वीकार है, सबसे अच्छी विसंगति यही रही कि वोट प्रतिशत हमारा ज्यादा रहा लेकिन सीटें कांग्रेस को अधिक मिली। यह भी हमें स्वीकार है।

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More

Don`t copy text!