Mjaghar

विश्व बैंक ने भारत के “आरोग्य सेतु” एप को सराहा अंग्रेजी और हिन्दी सहित 11 भारतीय भाषाओं में उपलब्ध है एप

Header Top

अंग्रेजी और हिन्दी सहित 11 भारतीय भाषाओं में उपलब्ध है एप

हरदा /प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी ने आज देश के नाम दिये संदेश में लोगों से आरोग्य सेतु एप अपनाने की पुन: अपील की है। यह एप लोगों को कोरोना वायरस संक्रमण के खतरे और जोखिम का आंकलन करने में मदद करता है। देश में 2 करोड़ से अधिक लोग इस एप को डाउनलोड कर चुके हैं। आरोग्य सेतु एप एंड्रायड और आईफोन दोनों फोन पर डाउनलोड किया जा सकता है। अंग्रेजी और हिन्दी समेत 11 भारतीय भाषाओं में उपलब्ध एप हरे और पीले रंग के कोड में आपके जोखिम के स्तर को बताता है और सुझाव देता है कि आपको कोरोना वायरस से बचने के लिये क्या करना चाहिए। विश्व बैंक ने भी भारत के इस एप की प्रशंसा की है।

आरोग्य सेतु” एप डाउनलोड करने का तरीका

Ashara Computer

आरोग्य सेतु एप डाउनलोड करने के लिये गूगल प्ले पर जाकर AarogyaSetu टाइप करें। आरोग्य और सेतु के बीच स्पेस नहीं दें। अपनी भाषा चुनने के बाद “रजिस्टर्ड नाउ” बटन पर टेप करें। ब्लूटूथ और जीपीएस ऑन करने के बाद एप को काम करने के लिये इसकी अनुमति दें। आरोग्य सेतु कांट्रेक्ट ट्रेसिंग के लिये मोबाईल नम्बर, ब्लूटूथ और लोकेशन डेटा का उपयोग करता है और बताता है कि आप कोरोना के जोखिम के दायरे में आ रहे है या नहीं। अपना मोबाईल नम्बर रजिस्टर्ड करने पर एप काम करने लगेगा। इसके बाद वैकल्पिक फार्म खुलने पर उसमें नाम, आयु, व्यवसाय और पिछले तीस दिनों में की गई विदेश यात्रा की जानकारी सबमिट करनी होती है। इस फार्म को स्किप किया जा सकता है। अगर कोई स्वयं सेवक बनना चाहता है, तो उसके पास खुद को इसमें नामांकित करने का विकल्प भी है।

कोरोना का खतरा भी बताता है एप

“आरोग्य सेतु” एप हरे और पीले रंग के कोड में जोखिम के स्तर को दिखाता है। ग्रीन कोड में बताता है कि आप सुरक्षित हैं, कोई खतरा नहीं हैं। अगर पीला रंग दिखता है और लिखकर आता है कि आप जोखिम में हैं, तो आपको हेल्पलाइन में सम्पर्क करना चाहिए। एप पर लोग “सेल्फ ऐसेसमेंट टेस्ट” फीचर का इस्तेमाल भी कर सकते हैं। इसके लिये ऑप्शन पर क्लिक करने पर एप चैट विन्डो खुलेगी। इसमें यूजर की सेहत और लक्षण से जुड़े हुए कुछ सवाल किये जाएंगे।

हेल्पलाइन नम्बर का पता भी बताता है

हेल्पलाइन नम्बर का पता लगाने के लिये कोविड-19 हेल्प सेंटर बटन पर क्लिक करना पड़ेगा और अपने शहर की लोकेशन तक पहुँचने के लिये स्क्रॉल डाउन करना होगा।

            विश्व बैंक ने रविवार को जारी रिपोर्ट में इस एप की प्रशंसा करते हुए लिखा है कि भारत ने हाल ही में आरोग्य सेतु एप लांच किया है, जो लोगों के स्मार्ट फोन की लोकेशन का उपयोग करके बताया है कि वे किसी ऐसे व्यक्ति के पास तो नहीं हैं, जिसकी कोरोना रिपोर्ट पॉजिटिव आयी है।

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More

Don`t copy text!
ब्रेकिंग
एमपी में लव जिहादः अनवर ने अनु बनकर युवती से की दोस्ती, फिर दुष्कर्म कर धर्म परिवर्तन के लिए धमकाया,... पोर्न स्टार को दिल दे बैठे शादीशुदा सांसद, पत्नी ने कही ये बात… हवालात में 5 कैदी , 2 सिपाही को शराब पार्टी मनाते पकड़ा , भेेजा जेेल ''जेएनयू की दिवारों पर ब्राहमण ओर वेश्य के लिए जातिसूचक नारेे लिखे'' घटना बर्दाश्त नहीं की जा सकती-... रेलवे स्टेशन सेे सटी 4 दुुकानों में अलसुबह आग लगी,,लाखो का हुआ नुकसान सांई प्रसाद चिटफंड कंपनी के फरार डायरेक्टर ,शशांक बी भापकर को पुुलिस ने पकड़ा अपराधियों के हौसले इतने बुलंद हैे,,कांग्रेस विधायक की कार का कांच तोड़कर उनका लेपटाप ले उडे़. 12 वी के छात्र ने लगाई्र फांसी,आत्महत्या के कारणो की खोज में पुलिस युवती से ब्हाटसप पर दोस्ती कर दुष्कर्म किया ,जबरन धर्मांतरण का दबाब बनाया ,फोटो मंगेतर को भेज दिए HARDA BIG NEWS: पत्नी की मौत से दुखी होकर पति ने भी लगा ली फांसी, एक साथ घर से उठी दो अर्थी, बेटियां...