ब्रेकिंग
आज दिन गुरुवार का राशिफल जानिये आज क्या कहते है आपके भाग्य के सितारे ई श्रमिक कार्ड बनाने के नाम पर आदिवासी महिला के साथ ठगी, खाते से गायब हो गए 5 हजार, ग्रामीणों ने युव... कोरोना के कारण न्यूजीलैंड का आस्ट्रेलिया दौरा अनिश्चित काल के लिए स्थगित कोरोना के नए केसों ने फिर डराया 2 लाख 80 हजार के पार MP के सुराना में 60 हिंदू घरों पर लिखा- मकान बिकाऊ है; यहां 60% आबादी मुस्लिम मोटर साइकिल चोर गिरोह का पर्दाफाश मुख्यमंत्री चौहान ने नई दिल्ली में एनडीएमसी पार्क में लगाया नींबू का पौधा हरदा : राष्ट्रीय युवा सप्ताह के तहत सांस्कृतिक कार्यक्रम सम्पन्न ‘‘उद्यम क्रान्ति योजना’’ के आवेदन 25 जनवरी तक ऑनलाईन जमा कराएं हरदा : मतदाता दिवस समारोह के लिये नोडल अधिकारी नियुक्त

अवैध शराब पकड़ने गए पुलिस वाहन पर शराब तस्कर ने किया हमला , वाहन हुआ क्षतिग्रस्त, पुलिस के साथ भी की हाथापाई, आरोपी गिरप्तार

मोहन गुर्जर

मकड़ाई समाचार हरदा / खुलेआम गांव गांव बिक रही अवैध शराब के कारोबार में शराब माफिया गांव गांव खुलेआम शराब परोस रहा है। आबकारी विभाग भी कोई कार्यवाही नही कर रहा। छोटी मोटी कार्यवाही कर सिर्फ रस्मअदायगी कर खानापूर्ति की जाती है।अब तो शराब माफियाओ सहित उनके एजेंट जो गांव गांव अपनी दुकान चला रहे है। उनके हौसले भी इतने बुलंद है। कि अब वह पुलिस पर हमला करने से भी नही चूक रहे। गांव में दहशत का माहौल है।लोग इनसे इतने भयबीत है।कि परेशान तो है। लेकिन कौन इनसे पंगा लेगा कहकर डर के साये में रह रहे है। हरदा थाना क्षेत्र के ग्राम गहाल में भी बीती रात एक ऐसी ही घटना घटी जिससे गांव में दहशत का माहौल हो गया। एक शराब एजेंट पर कार्यवाही करने गई पुलिस टीम पर ही आरोपी तस्कर हावी हो गया। और पुलिस वाहन को क्षतिग्रस्त कर आग बबूला हो गया। माहौल बढ़ता देखकर जिला मुख्यालय से पुलिस फोर्स वाहन टीम को बुलाना पड़ा। काफी मशक्कत के बाद आरोपी युवक को गिरप्तार कर लिया गया। अगर अभी भी जिला पुलिस अधीक्षक एवं आबकारी विभाग द्वारा इस अवैध धंधे के खिलाफ कोई ठोस एक्शन नही लिया तो आने वाले समय मे कोई बड़ी घटना को भी ऐसे शराब माफिया अंजाम दे सकते है।

क्या है पूरा मामला

बीती रात मुखबिर की सूचना पर ग्राम ग़हाल पुलिस पहुँची जहा एक ढाबा पर पुलिस ने अवैध शराब जप्त करने की कार्यवाही की लेकिन ढाबा संचालक आरोपी युवक ने उल्टे पुलिस वाहन पर पत्थर मारकर वाहन के कांच फोड़ दिए। ओर कार्यवाही का विरोध और पुलिस के साथ हाथापाई करने लगा। माहौल बिगड़ते देख पुलिस टीम को जिले से अतिरिक्त बल बुलाना पड़ा और देर रात आरोपीयो को गिरप्तार कर आज न्यायालय पेश किया। आरोपी युवक के पास से अवैध शराब जप्ती की कार्यवाही के साथ शासकीय कार्य मे बाधा सहित विभिन्न धाराओं में प्रकरण दर्ज किया गया। पुलिस से प्राप्त जानकारी के अनुसार मुखबिर की सूचना पर चौकी प्रभारी सुरेखा निमोदा एवं हमराह स्टाफ के मुखबिर की सूचना पर ग्राम गहाल पहुंचे जहां पर असलम पिता रज्जाक निवासी गहाल एवं राजेश को ढाबे की दीवाल के पास एक ग्रे कलर की स्कूटी जिसके पैरदान के पास में से 6 खाकी कलर के बक्से रखे थे जिसे पुलिस स्टाफ की मदद से घेराबंदी कर पकड़ा व बक्से को चेक किया चेक करने पर देसी प्लेन मदिरा का होना पाया गया प्रत्येक बक्से में 50_50 क्वार्टर रखे हुए थे जिसकी कीमत लगभग 15000 है एवं और तलाश करने पर एक सफेद रंग की कुप्पी मिली जिसमें लगभग 5 लीटर महुआ हाथ भट्टी की शराब मिली जिसकी कीमत 500 रुपये के लगभग है मौके पर उक्त शराब व स्कूटी क्रमांक mp47 mb 4420 को मौके पर जप्त किया उक्त शराब को पकड़ने में थाना प्रभारी सुभाष दरश्यामकर चौकी प्रभारी सुरेखा निमोदा asiबुद्ध सिंह मसकोले प्रधान आरक्षक राजेश रघुवंशी आरक्षक विजय परते आरक्षक राजेश बमरेले प्रधान आरक्षक रामभोग शर्मा आरक्षक मनोज रघुवंशी एवं स्टाफ का विशेष योगदान रहा।

पुलिस पर हमला करने वाले को किया गिरफ्तार

अवैध शराब पकड़ने गई पुलिस टीम पर कार्रवाई के दौरान असलम पिता रज्जाक एवं राजेश पिता भगवान सिंह व सद्दाम पिता रज्जाक व फिरोज पिता रज्जाक ने उक्त कार्रवाई का विरोध कर पुलिस से झुमा झटकी की एवं शासकीय कार्य में बाधा पहुंचा कर शासकीय वाहन को क्षतिग्रस्त कर दिया एवं घटना घटित करने में असलम पिता रज्जाक एवं राजेश पिता भगवान सिंह व सद्दाम पिता रज्जाक को आज गिरफ्तार किया गया गिरफ्तार कर माननीय न्यायालय पेश किया गया ।

शराब बिक्रेता पर भी हो कार्यवाही, तभी रुकेगा शराब का यह अवैध व्यवसाय

एक ओर जहां आगामी विधानसभा चुनाव को लेकर आचार सहिता पूरे प्रदेश में लागू है। उसके बाद भी गांव गांव शराब की यह खेप कहा से कोन पहुचा रहा। किस दुकानदार ने इतनी ज्यादा मात्रा में शराब की पेटियां बक्शे बेचे । उसकी भी जांच होना चाहिए। जो खुलेआम आचार संहिता का उलंघन कर गांव गांव शराब की पेटियां भिजवा रहा। ऐसे दुकानदार के मैनेजर ओर मालिक पर भी कार्यवाही होना चाहिए। तभी यह शराब का अवैध व्यवसाय बंद होगा। और अपराध भी कम होंगे।

Leave A Reply

Your email address will not be published.

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More

Don`t copy text!