ब्रेकिंग
वैष्णो देवी में श्रद्धालुओं को दिखा आलौकिक नजारा, सफेद चादर से ढ़क गया मां का भवन- सांझी छत और भैरो ... दिल्ली में कोरोना के नए मामलों में उछाल, पॉजिटिविटी रेट में आई बड़ी गिरावट वीकेंड कर्फ्यू समेत कई प्रतिबंधों से दिल्ली के कारोबारी परेशान, उठाए ये कदम तो लाखों लोग होंगे परेशा... बीटिंग द रिट्रीट: अब इतिहास हो जाएगी महात्मा गांधी की यह फेवरेट धुन, इसकी जगह बजेगा यह संगीत MP NEWS : पत्नी से सामूहिक दुष्कर्म मामलें में SIT गठित, आरोपियों की होगी दुबारा रिमांड, उजागर होंगे... आनंद उत्सव में बच्चों ने दिखाई प्रतिभा 16 साल की लड़की से पिता और भाई ने 2 साल तक किया रेप, ऐसे हुआ हैवानियत का खुलासा बीएचआरसी ग्रुप ने आयोजित की पत्रकार वार्ता, रखे सुझाव हरदा : गणतंत्र दिवस पर स्वतंत्रता संग्राम सेनानियों एवं लोकतंत्र सेनानियों को उनके घर जाकर किया जाएग... हरदा : समारोहपूर्वक मनाया जाएगा गणतंत्र दिवस, आयोजन के संबंध शासन ने किये दिशा निर्देश जारी

दिव्यांग दंपत्ति की जमीन पर दबंगो ने किया कब्जा, एसडीएम कलेक्टर को कई बार की शिकायत नही हुई सुनवाई, संभागायुक्त ने दिया कार्यवाही का आश्वाशन

मकड़ाई समाचार होशंगाबाद। जिले के सिवनीमालवा तहसील  के ग्राम जिजलवाड़ा में एक दिव्यांग परिवार जिसमे पति पत्नी, ओर चार पुत्र सभी गूंगे बहरे है। उनकी जमीन पर उनके ही परिवार के दबंग रामबाई पति मंगलसिंह यदुवंशी ने अवैध रूप से कब्जा कर जमीन हथिया ली। पीड़ित परिवार पिछले 2 सालों से  न्याय के लिये तहसील से लेकर कलेक्टर तक अधिकारियों कर्मचारियों के चक्कर लगाकर थक गया।

लेकिन राजस्व विभाग के किसी भी अधिकारी कर्मचारियों ने इस दिव्यांग परिवार की नही सुनी। इंसानियत मानवता को तार तार कर देने वाले कलयुगी भाई को जरा सा भी रहम अपने दिव्यांग भाई और  दिव्यांग भतीजो पर नही आया। उल्टे पैतृक संपत्ति के हिस्से बंटवारे में भी उसके साथ धोखाधड़ी की । उस गूंगे परिवार की मदद के लिये गॉव के कुछ लोगो ने मानवता दिखाई। वो लोग निःस्वार्थ भाव से उसकी मदद कर रहे है। आज के समय हर व्यक्ति का सपना होता है। की में मेरी आने वाली पीढ़ी के लिये कुछ करके जाऊ। लेकिन यहाँ तो दबंग भाइयो ने इस दिव्यांग परिवार के अरमानों को कुचलकर रख दिया।

ग्राम विजलवाड़ा के इस दिव्यांग पीड़ित परिवार के दम्पप्ति का नाम लखन लाल पिता बाबूलाल यदुवंशी है। घर के सभी 6 सदस्य न तो बोल सकते है और नही सुन सकते है। सभी जगह न्याय पाने के लिये आवेदन निवेदन देने के बाद गत दिनों यह दिव्यांग परिवार कुछ परिचित लोग जो लगातार मकड़ाई समाचार के पाठक है।

वह मकड़ाई समाचार की निडर निष्पक्ष खबरों से प्रभावित होकर न्याय की उम्मीद लिये होशंगावाद जिले से हरदा मकडाई समाचार के कार्यालय में शिकायतों का पिटारा लेकर आये। इन शिकायती आवेदनों में तहसीलदार से लेकर कलेक्टर तक के शिकायती आवेदन थे। इन शिकायतों ओर कोर्ट के आदेश देखने के बाद ऐसा लगा की शायद अब इंसानियत मानवता बची नही । तहसील में बैठे बाबू जो प्रतिमाह हजारो रुपये सेलरी लेते है। वह भी रुपयों के लालच में इतने अंधे हो गए। जिसकी कल्पना भी नही की जा सकती। इन्हें इस दिव्यांग दम्पत्ति पर जरा सा भी तरस नही आया। हद कर दी आप जैसे तथाकथित अधिकारियों ने जरा सी तो शर्म कर लेते। एक दिव्यांग परिवार अपनी जमीन का सीमांकन करवाकर अवैध कब्जा हटाने की मांग कर रहा है। और आप उसे पागल समझकर सिर्फ आवेदन लेकर चलता कर रहे हो कहा गई। आपकी मानवता। कहा गए आपके संस्कार लेकिन उस गरीब की आपने एक बार भी नही सुनी उसकी गलती इतनी है कि वह गूंगा है। सुन नही सकता बोल नही सकता। मकड़ाई समाचार ने जब इस संबंध में  नर्मदापुरम  संभाग आयुक्त रजनीश  श्रीवास्तव से चर्चा की तो उन्होंने जांच कर कार्यवाही का आश्वाशन दिया ।

Leave A Reply

Your email address will not be published.

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More

Don`t copy text!