ब्रेकिंग
स्कूल की पानी की टंकी ढही, एक बालक की मौत, तीन गंभीर विद्युत कंपनियो के मुख्यालय मे गणतंत्र दिवस समारोह  आयोग अध्यक्ष न्यायमूर्ति जैन द्वारा पर्यावास भवन परिसर में ध्वजारोहण कार्यक्रम सम्पन्न इंदौर में देह व्यापार वाले होटल और स्पा एक साल के लिए सील आयोग में मामला आने पर राजकुमार डेहरिया का हुआ विनियमितीकरण राजगढ के बदमाश ने रेल्वे स्टेशन से चोरी की थी टवेरा कार शिवराज ने झंडावंदन कर बोले इंदौर को स्टार्टअप फील्ड में देश की राजधानी बनाएंगे MP में NH-30 कश्मीर-कन्याकुमारी को जोड़ने वाले पुल के नीचे लगाया टाइम बम पुताई के ठेके को लेकर हुआ था युवक से विवाद Republic Day 2022 Special : मेरा नाम 26 जनवरी है, और इस पर मुझे गर्व है

T20 : टीम इंडिया के पास ऑस्ट्रेलिया में लगातार 8वीं सीरीज जीतने का मौका, पहला T-20 कल से

ब्रिस्बेन : क्रिकेट की सबसे चर्चित प्रतिद्वंद्विता के लिए रणभेरी टी20 अंतरराष्ट्रीय श्रृंखला के आगाज के साथ बजेगी तो मैदान के भीतर और बाहर खराब दौर से जूझ रही ऑस्ट्रेलियाई टीम पर भारत का पलड़ा भारी होगा। एडिलेड में छह दिसंबर से शुरू होने वाली टेस्ट श्रृंखला के लिए अपना दावा पुख्ता करने के मकसद से भारत का लक्ष्य तीनों टी20 मैच अपनी झोली में डालना होगा। भारतीय टीम ने नवंबर 2017 से अब तक सातों टी20 श्रृंखलाएं जीती हैं। उसे आखिरी बार टी20 श्रृंखला में जुलाई 2017 में वेस्टइंडीज ने हराया था।

पिछले ऑस्ट्रेलिया दौरे पर भारत ने टी20 श्रृंखला 3-0 से अपने नाम की थी, लिहाजा खिलाड़ियों का आत्मविश्वास काफी बढ़ा होगा। दूसरी ओर, ऑस्ट्रेलियाई टीम अभी तक मार्च में दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ केपटाउन टेस्ट के दौरान गेंद से छेड़खानी विवाद से उबर नहीं सकी है। क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया ने मंगलवार को स्टीव स्मिथ, डेविड वॉर्नर और कैमरन बेनक्रॉफ्ट पर लगा प्रतिबंध कम करने से इनकार कर दिया। वॉर्नर और स्मिथ की गैर-मौजूदगी में ऑस्ट्रेलियाई टीम वैसे ही कमजोर हो गई है।

दोनों पर लगे प्रतिबंध के बाद से ऑस्ट्रेलिया एक भी टी20 श्रृंखला नहीं जीत सका है। उसे जून में इंग्लैंड ने हराया, जबकि जिम्बाब्वे में टी20 श्रृंखला के फाइनल में पाकिस्तान ने मात दी। इसके बाद यूएई में पाकिस्तान से द्विपक्षीय श्रृंखला 3-0 से हार गया। फिर दक्षिण अफ्रीका ने वर्षा से बाधित मैच में मात दी। अब देखना यह है कि अपनी धरती पर एक समय अपराजेय रही ऑस्ट्रेलियाई टीम वह तिलिस्म फिर कयम रख पाती है या नहीं।

भारतीय टीम में कप्तान विराट कोहली की वापसी हुई है, जिन्हें वेस्टइंडीज के खिलाफ तीन मैचों की श्रृंखला में आराम दिया गया था। उनकी वापसी से भारतीय टीम मजबूत हुई है और देखना यह है कि आरोन फिंच की अगुआई वाली ऑस्ट्रेलियाई टीम दुनिया के सर्वश्रेष्ठ बल्लेबाज पर कैसे अंकुश लगा पाती है। कोहली ने 2016 की श्रृंखला में तीन पारियों में 199 रन बनाए थे। दक्षिण अफ्रीका के कप्तान फाफ डु प्लेसिस ने ऑस्ट्रेलिया को कोहली से नहीं टकराने की सलाह दी है। कोहली ने इंग्लैंड में चौथे नंबर पर बल्लेबाजी करके केएल राहुल को तीसरे नंबर पर उतारा था। राहुल वेस्टइंडीज के खिलाफ तीन मैचों में 16, नाबाद 26 और 17 रन ही बना सके, लेकिन उन्हें टीम में रखा गया है।

दिनेश कार्तिक और विकेटकीपर बल्लेबाज ऋषभ पंत भी टीम में हैं। हार्दिक पांड्या की गैर मौजूदगी में टीम का संतुलन बनाना चिंता का सबब होगा। गाबा की उछालभरी पिच पर भुवनेश्वर कुमार, जसप्रीत बुमराह और खलील अहमद उपयोगी साबित होंगे। स्पिन का मोर्चा कुलदीप यादव और युजवेंद्र चहल पर होगा। ऑस्ट्रेलिया के पास ग्लेन मैक्सवेल के रूप में एकमात्र स्पिनर हैं, लेकिन हालात को ध्यान में रखकर मेजबान टीम तेज आक्रमण से भारत पर दबाव बनाना चाहेगी।

दोनों टीमें इस प्रकार हैं-
भारत :
 विराट कोहली (कप्तान), शिखर धवन, रोहित शर्मा, केएल राहुल, दिनेश काॢतक, ऋषभ पंत, कृणाल पंड्या, युजवेंद्र चहल, कुलदीप यादव, जसप्रीत बुमराह, भुवनेश्वर कुमार, खलील अहमद।
ऑस्ट्रेलिया : आरोन फिंच (कप्तान), एस्टोन एकर, जैसन बेहरेनडोर्फ, एलेक्स कारे, नाथन कूल्टर नाइल, क्रिस लिन, बेन मैकडरमोट, ग्लेन मैक्सवेल, डीआर्सी शार्ट, बिली स्टानलेक, मार्कस स्टोइनिस, एंड्रयू टाय, एडम जाम्पा।
मैच का समय : दोपहर 1.20 से।

Leave A Reply

Your email address will not be published.

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More

Don`t copy text!