banner add
banner ad 11

‘छावनी’ में बदली अयोध्या, ‘रामनगरी’ के लिए मुंबई से रवाना हुए उद्धव ठाकरे

Header Top

अयोध्या में अगले 48 घंटे बहुत अहम रहने वाले हैं। पार्टी के प्रमुख उद्धव ठाकरे सह-परिवार करीब दो बजे फैजाबाद एयरपोर्ट पहुंचेंगे जिसके लिए वे मुंबई से रवाना हो चुके हैं। ठाकरे यहां साधु-संतों से मुलाकात करेंगे। यदि आपको याद हो तो उन्होंने पिछले दिनों अयोध्या में मंदिर निर्माण के लिए शिवाजी स्मारक से मिट्टी उठाया था। इस कार्यक्रम में शामिल होने के लिए हजारों शिवसैनिक ट्रेन और अन्य साधनों से अयोध्या पहुंचने लगे हैं। वहीं, 25 नवंबर को विश्व हिंदू परिषद की ओर से धर्मसभा का आयोजन किया गया है। इस कार्यक्रम में करीब 1 लाख संतों के पहुंचने की संभावना है। इन तमाम कार्यक्रमों के मद्देनजर अयोध्या में सुरक्षा के कड़े इंतजाम किए गए हैं।

लोगों ने किया जरूरी सामान का स्टॉक
शहर के चारों ओर कड़ी सुरक्षा व्यवस्था की गई है। हालांकि, कहा जा रहा है कि मुस्लिम समुदाय में भय का माहौल है। कुछ लोगों ने शुक्रवार को ही घर के सभी जरूरी सामानों का स्टॉक कर लिया है। उन्होंने राशन, फल, सब्जी और दवाओं का स्टॉक कर लिया है। हर कोई अपने-अपने घरों में सुरक्षित हो चुका है। कई लोगों को इस बात का डर है कि कहीं 6 दिसंबर, 1992 जैसी घटना फिर से न हो जाए।

एक निजी चैनल से बात करते हुए व्यापार मंडल के कई व्यापारियों ने कहा कि दूसरे दिनों के मुकाबले आज बाजार में हलचल ज्यादा हैं। लोग रोजाना की तुलना में ज्यादा सब्जियां और अन्य जरूरी सामान खरीद रहे हैं। व्यापारियों का कहना है कि पूरे शहर में चप्पे-चप्पे पर पुलिस बल तैनात है, जिसकी वजह से लोग सहमे हुए हैं।

Shreegrah

ADGP स्तर के अधिकारी ने संभाली सुरक्षा व्यवस्था
अयोध्या में किसी तरह का बवाल न हो, इसके लिए सैकड़ों की संख्या में पुलिसकर्मियों को तैनात किया गया है। शहर की सुरक्षा जिम्मेदारी ADGP स्तर के पुलिस अधिकारी को सौंपी गई है। इसके अलावा 3 SSP, 10 ASP, 21 DSP, 160 इंस्पेक्टर, 700 कॉन्स्टेबल, PAC की 42 कंपनी, RAF की 5 कंपनी और ATS कमांडो को सुरक्षा के लिए तैनात किया गया है। ड्रोन कैमरे की मदद से हर जगह की गतिविधियों पर नजर रखी जा रही है।

मुस्लिमों ने की अतिरिक्त सुरक्षा की मांग
अयोध्या के कलेक्टर अनिल कुमार ने कहा कि हम स्थानीय लोगों से लगातार संपर्क में है। भय का माहौल बिल्कुल भी नहीं है। शिवसेना और विश्व हिंदू परिषद का कार्यक्रम प्रशासन की अनुमति के बाद आयोजित किया गया है। प्रशासन की शर्तों पर सभी कार्यक्रम आयोजित किए गए हैं। इसलिए डरने जैसी कोई बात नहीं है। सुरक्षा के मद्देनजर शुक्रवार को तीन और IPS अधिकारी को अयोध्या में तैनात किया गया है। जोन के सभी अधिकारी 24 घंटे कैंप लगाकर और घूम-घूम कर निगरानी करेंगे। इस बीच, VHP और शिवसेना की बढ़ती हई गतिविधियों को देखते हुए राम मंदिर मामले में एक पक्षकार इकबाल अंसारी ने प्रशासन से अतिरिक्त सुरक्षा की मांग की है। उन्होंने अयोध्या के एसपी सिटी को फोन कर 24 और 25 नवंबर के लिए सुरक्षा बढ़ाने का मांग की है।

शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे 24 नवंबर को दोपहर 2 बजे अयोध्या हवाई पट्टी पहुंचेंगे। 3 बजे वे लक्ष्मण किला जाएंगे, जिसके बाद वे श्री विद्वत संत पूजन एवं आशीर्वादोत्सव कार्यक्रम में शामिल होंगे। शाम 5:15 बजे नया घाट पर सरयू आरती में वे शामिल होंगे। 25 नवंबर को वे सुबह 9 बजे राम जन्मभूमि में रामलला के दर्शन करेंगे। दोपहर 12 बजे अयोध्या में ही प्रेस कॉन्फ्रेंस करेंगे। उसके बाद दोपहर 1 बजे वे जनसभा को संबोधित करेंगे। 3 बजे वापस हवाई पट्टी के लिए रवाना होंगे। वहां से वे मुंबई के लिए निकल जाएंगे।

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More

Don`t copy text!
ब्रेकिंग
विवादित बयान से संविधान का अपमान ? गेस्ट हाउस में चल रहा था देह व्यापार, आपत्तिजनक हालत में 3 जोड़े गिरफ्तार, संचालक फरार राजगढ़ जिले में दो दिवस में विकास यात्राओं में 710 लाख के विकास कार्यो का लोकार्पण एवं 641 लाख के विक... लोक सेवा गारंटी अंतर्गत सेवाओं को समय-सीमा में शिकायतों का निराकरण नहीं करने पर चार अधिकारियों पर लग... संत रविदास जयंती के उपलक्ष में हुआ कार्यक्रम का भव्य आयोजन, सिराली के मुख्य मार्गो से निकली शोभायात्... मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी हरदा ने दस्तक अभियान का किया शुभारंभ harda : आत्माराम की खुशी का आज ठिकाना न था, विकास यात्रा में पक्के मकान में परिवार सहित किया गृह प्र... टिमरनी विधानसभा के ग्रामीण क्षेत्रों में पहुँची ‘‘विकास यात्रा’’ harda : रमेश का सपना हुआ साकार विकास यात्रा में मिली पक्के मकान की सौगात मुख्यमंत्री चौहान ने सिंगल क्लिक के माध्यम लाड़ली लक्ष्मियों के खाते मे छात्रवृत्ति की राशि ट्रांसफर ...