राजस्थान में पर्व त्योहार के बहाने मिशन 2019 में जुटी मोदी सरकार!

Header Top

नई दिल्ली: विपक्षी एकता की कवायद के बीच बीजेपी 2019 के मिशन को सफल बनाने के लिए पूरी तरह एक्शन मोड  में आ गई है।  राजस्थान में विधानसभा चुनाव की घोषणा अभी नहीं हुई है लेकिन राजनीतिक दलों ने पर्व-त्योहार पर लोगों को ‘ बधाइयां , शुभकामनाएं और दुआ’देने के बहाने चुनाव प्रचार शुरु कर दिया है।  हरियाणा की सीमा समाप्त होते ही राजस्थान के अलवर जिले में प्रवेश करते ही सड़कों के किनारे बड़े -बड़ेे होर्डिंग, पोस्टर और दीवार लेखन किए गएं हैं। इसके माध्यम से विभिन्न राजनीतिक दल लोगों को दीपावली और दशहरा की बधाई एवं शुभकामनाएं दे रहे हैं।  इन पर राजनीतिक दलों के चुनाव चिन्ह को प्रमुखता से उभारा गया है ताकि लोगों का ध्यान इस ओर आकर्षित हो सके । सबसे अधिक प्रचार राज्य में सत्तारुढ भारतीय जनता पार्टी की ओर से किया गया है। इसमें मुख्यमंत्री वसुन्धरा राजे के बड़े बड़े चित्र लगाए गए हैं । इसके अलावा भाजपा के कई स्थानीय नेताओं और संभावित उम्मीदवारों ने भी अपने अपने होर्डिंग लगाए हैं जिन पर उनके चित्र लगे हैं और पार्टी के चुनाव चिन्ह को दर्शाया गया है।

 राजस्थान का कई बार दौरा कर चुके हैं मोदी
भाजपा के कुछ नेताओं की ओर से सड़क किनारे के मकानों पर दीवार लेखन भी कराया गया है। कांग्रेस की ओर से भी होर्डिंग लगाए गए हैं जिन पर स्थानीय नेताओं के चित्र लगे हैं और पार्टी के चुनाव चिन्ह को प्रदर्शित किया गया है। इसी प्रकार से बहुजन समाज पार्टी (बसपा) के नेताओं की ओर से भी पोस्टर और प्रचार के दूसरे साधनों का इस्तेमाल किया गया है। बसपा प्रमुख मायावती ने हाल में राजस्थान में कांग्रेस से तालमेल किये बिना अकेले चुनाव लडऩे की घोषणा कर दी है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी राजस्थान का कई बार दौरा कर चुके हैं। भाजपा अध्यक्ष अमित शाह भी इसमें पीछे नहीं हैं। भाजपा ने राज्य में जातिय समीकरण को ध्यान में रखकर हाल में पार्टी का नया प्रदेश अध्यक्ष नियुक्त किया है। समझा जाता है कि केन्द्रीय कृषि राज्य मंत्री गजेन्द्र सिंह शेखावत अध्यक्ष पद के प्रमुख दावेदार थे लेकिन सिंधिया उनके पक्ष में नहीं थी। शेखावत आजकल पार्टी मुख्यालय में मीडिया को संबोधित कर रहे हैं।

कांग्रेस के नेता भी लगे हुए हैं हवा बनाने के प्रयास में 
भाजपा को सत्ता से बाहर करने के लिए कांग्रेस के नेता भी नियमित दौरा कर पार्टी के पक्ष में हवा बनाने के प्रयास में लगे हैं। प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष सचिन पायलट सभी नेताओं को एकजुट कर सत्ता विरोधी लहर को भुनाने का प्रयास कर रहे हैं। भाजपा के खिलाफ कुछ अन्य राजनीतिक दल भी धीमी गति से अपने लोगों को गोलबंद करने में जुटे हैं। हाल में अलवर जिले के किशनगढबास में विश्व स्तरीय शिक्षण संस्थान का शिलान्यास करने गये अल्पसंख्यक मामलों के मंत्री मुख्तार अब्बास नकवी ने कहा कि विधानसभा चुनाव से उनके आयोजन का कोई लेना देना नहीं है।

Ashara Computer

40 प्रतिशत सीट है लड़कियों के लिए आरक्षित 
मेवात क्षेत्र शैक्षणिक रुप से पिछड़ा है और एक ही स्थान पर प्राथमिक से उच्च्स्तरीय शिक्षा के लिए इस संस्थान की स्थापना की जा रही है। इस संस्थान की स्थापना एक हजार करोड़ रुपए की लागत से की जा रही है जिसमें 40 प्रतिशत सीट लड़कियों के लिए आरक्षित है। नकवी ने कहा कि उनकी पार्टी वोट के लिए कोई सौदा नहीं कर रही है। लोगों को यह तय करना है कि वे विकास के लिए समर्पित सरकार चाहते हैं या नहीं। भाजपा का लक्ष्य विकास से देश को जोड़कर उसका लाभ समाज के अंतिम व्यक्ति तक पहुंचाना है।

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More

Don`t copy text!
ब्रेकिंग
हरदा बिग ब्रेकिंग : दुःखद सड़क दुर्घटना में पति-पत्नी सहित दो मासूम बच्चों की मौत, चाचा गंभीर घायल, क... तूफानी रफ्तार : 25 फीट दूरी तक उछलकर नाले में पलटी कार, एयर बैग खुलने से बची युवक की जान सड़क बनाने खोदी मुरम, गड्ढे में भरा वर्षा का पानी, तीन बच्चियों की डूबने से मौत BREAKING NEWS : ट्रक और फोर व्हीलर वाहन भीषण टक्कर, हरदा के एक ही परिवार के 4 लोगों की मौत, 1 गंभीर अशोक गहलोत ने बताई बागी विधायकों की नाराजगी की वजह, पायलट गुट पर साधा निशाना उजड़ गए 3 परिवार, बच्चों के शव देख कांपी रूह, अंतिम संस्कार में उमड़ी भीड़ राजनीतिक सरंक्षण में हो रहा अवैध उत्खनन,कार्यवाही में अवैध खदान से 11 ट्रक किए जब्त अवैध उत्खनन पर कार्यवाही में 746 एफआईआर,456 किए गिरफ्तार ,साढे़ 11 करोड़ जुर्माना वसूला,कार्यवाही से ... हरदा -  8 दिसंबर 1933 में हरदा आये थे गांधीजी । उन्हें 1633 रुपये 15 आने भेंट किये हरदा वासियो ने ! धार्मिक नगरी सिराली: दाना बाबा नवदुर्गा उत्सव समिति का विराट कवि सम्मेलन आज