ब्रेकिंग
बिग ब्रेकिंग - 7 करोड़ के नकली नोटो के साथ 7 बदमाश गिरफ्तार आज दिन गुरुवार का राशिफल जानिये आज क्या कहते है आपके भाग्य के सितारे शुद्ध बुद्धि यशोदा है जब दोनों का मिलन होता है तब हृदय के अष्ट कमल पर आनंद रूपी कृष्ण अवतार होता है।... हरदा ।  पूज्य बापू और सुभाषजी की प्रतिमा पर  माल्यार्पण करते समय कलेक्टर पहने हुए थे जूते ! मुंबई के ईस्ट बांद्रा में गिरी पांच मंजिला इमारत, कम से कम 5 लोगों के फंसे होने की आशंका गूगल के CEO सुंदर पिचाई के खिलाफ FIR दर्ज, कॉपीराइट के उल्लंघन का मामला हरदा : कांग्रेसजनों ने झंडावंदनकर 73वां गणतंत्र दिवस धूमधाम से मनाया स्कूल की पानी की टंकी ढही, एक बालक की मौत, तीन गंभीर विद्युत कंपनियो के मुख्यालय मे गणतंत्र दिवस समारोह  आयोग अध्यक्ष न्यायमूर्ति जैन द्वारा पर्यावास भवन परिसर में ध्वजारोहण कार्यक्रम सम्पन्न

भीम आर्मी के चंद्रशेखर का भी सपा के साथ गठबंधन का एलान, बोले- भाजपा को हराना लक्ष्य

लखनऊ। उत्तर प्रदेश में विधानसभा चुनाव में पहले चरण के मतदान से पहले ही विपक्षी दल भारतीय जनता पार्टी के खिलाफ एकजुट हो रहे हैं। लखनऊ में शुक्रवार को स्वामी प्रसाद मौर्य व धर्म सिंह सैनी के छह विधायकों के साथ सपा में शामिल होने से पहले भीम आर्मी के चंद्रशेखर ने भी अखिलेश यादव से मुलाकात की थी।

समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव से शुक्रवार को दूसरी भेंट के बाद भीम आर्मी के प्रमुख चंद्रशेखर ने बड़ी घोषणा कर दी। चंद्रशेखर ने कहा कि हमने भी इस विधानसभा चुनाव में समाजवादी पार्टी के साथ गठबंधन कर लिया है। हम इस गठबंधन के बाद अब भाजपा को हराएंगे। जल्दी ही अखिलेश यादव के साथ मिलकर सीटें भी तय कर लेंगे। समाजवादी पार्टी के साथ भीम आर्मी का गठबंधन हो गया है।

चंद्रशेखर पश्चिमी उत्तर प्रदेश में दलित वर्ग में बड़ी पकड़ रखते हैं। युवा नेता के रूप में विख्यात चंद्रशेखर लखनऊ से लेकर मेरठ तथा सहारनपुर में काफी एक्टिव हैं। वह कांग्रेस के साथ भी सम्पर्क में थे। इसके बाद समाजवादी पार्टी के साथ उनकी गठबंधन की बात काफी समय से चल रही थी। उनका सपा के साथ पश्चिमी उत्तर प्रदेश में कुछ सीटों को लेकर पेंच फंसा है। समाजवादी पार्टी के साथ गठबंधन में पिछड़े वर्ग के बड़े चेहरे तो हैं, लेकिन दलित वर्ग के बड़े चेहरे की कमी को चंद्रशेखर की पार्टी के गठबंधन ने पूरा कर दिया है। चंद्रशेखर की पार्टी के साथ गठबंधन को समाजवादी पार्टी तो बसपा की काट भी मान रही है।

अखिलेश यादव से भेंट के बाद भीम आर्मी के मुखिया चंद्रशेखर ने कहा कि एकता में बड़ा दम है। मजबूती और एकता के बगैर भाजपा और बसपा को हराना आसान नहीं है। गठबंधन के अगुवा का दायित्व होता है कि वो सभी समाज के लोगों के प्रतिनिधित्व और सम्मान का खयाल रखें। दलित वर्ग अखिलेश यादव से इस जिम्मेदारी को निभाने की अपेक्षा रखता है।

Comments are closed, but trackbacks and pingbacks are open.

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More

Don`t copy text!