ब्रेकिंग
Aaj Ka Rashifal | राशिफल दिनांक 13 जून 2024 | दिन गुरुवार जानिए आज क्या कहते है आपके भाग्य के सितारे MP BIG News : कठुआ में हुए आतंकी हमलें में छिंदवाड़ा का कबीर हुआ शहीद पैथोलॉजी लैब फर्जी रिपोर्ट कलेक्टर को मिली शिकायत, जांच करने पहुंची टीम, विजय पैथोलॉजी को किया सील देवास: कांटाफोड पुलिस को मिली बड़ी सफलता, चोरी तथा ट्रक कटिंग करने वाले दो चोर धराए! खातेगांव: जल है तो कल है इसे बचाने के लिए हमें जल संरचनाओं को पुर्नजीवित करने के प्रयास करना होंगे- ... Breking News : बाइक सवार लूटेरों ने दिन दहाड़े पिस्टल दिखाकर व्यापारी से की 27 लाख की लूट कांग्रेस नेता सुरेंद्र जैन के बेटे संकल्प को कार दुर्घटना में बनाया आरोपी ! एफआईआर दर्ज ! हंडिया : पीए श्री स्कूल हंडिया के प्रधान पाठक जीआर चौरसिया द्वारा शिक्षकों को एक दिवसीय प्रशिक्षण दि... नर्मदा पुरम : नर्मदापुरम जिले के नगरों/ग्रामों में देखी गई विशेष खगोलीय घटना, साया ने छोड़ा,काया का ... Big News Mp: खंडवा जिले में 6 बदमाशो को जिला बदर करने के आदेश जारी!

Bakri Palan Loan Yojana 2024: सरकार दे रही इन पशु पालकों को 50 लाख तक का लोन, ऐसे करे इस योजना ऑनलाइन आवेदन

Rajasthan Bakri Palan Loan Yojana 2024 : राजस्थान बकरी पालन ऋण योजना का उद्देश्य | Objective of Rajasthan Bakri Palan Loan Yojana | बकरी पालन ऋण योजना राजस्थान के लिए पात्रता | Eligibility for Bakri Palan Loan Yojana Rajasthan | Process to apply offline under Bakri Palan Loan Yojana Rajasthan | राजस्थान बकरी पालन योजना 2024 

Bakri Palan Loan Yojana 2024: (बकरी पालन लोन योजना) राज्य के लोगों के कल्याण के लिए सरकार ने बकरा बकरी पालन योजना की शुरूआत की है | इस योजना में सरकार द्वारा बकरी पालने की इच्छा रखने वाले लोगों को 50 लाख रुपए तक ऋण की सुविधा उपलब्ध कराई जाती है। हम आज हमारे इस आर्टिकल में बताएंगे। की आप भी इस योजना का लाभ लेकर अपना खुद का व्यवसाय कर अच्छा मुनाफा कमा सकते हो।

राजस्थान सरकार द्वारा हाल ही में राज्य के पशुपालकों के लिए बकरी पालन इस योजना में 5 लाख रुपए से लेकर 50 लाख रुपए तक का लोन उपलब्ध कराया जाता है। यह योजना ग्रामीण क्षेत्र के लोगों के लिए है। जो खुद का रोजगार शुरू करना चाहते हैं। सरकार द्वारा इस योजना में ग्रामीण क्षेत्र के लोगों को बकरी पालन के लिए छोटे स्तर से लेकर बड़े स्तर तक लोन की सुविधा उपलब्ध कराई जाती है। इस योजना में पशु पालकों को सरकार द्वारा 50% से 60% का अनुदान भी दिया जाता है। बता दे की सरकार द्वारा उपलब्ध कराए जाने वाला लोन सब्सिडी के आधार पर दिया जाता है।

सीएम मोहन यादव शुरू करेंगे लाडली बहना योजना का तीसरा चरण, देखे

योजना का उद्देश्य –

बकरी पालन लोन योजना को शुरू करने का मुख्य उद्देश्य राज्य के बेरोजगार लोगों को रोजगार के साथ जोड़ना है। दरअसल प्रदेश में ऐसे लाखों परिवार है जो खुद का स्वरोजगार शुरू करना चाहते हैं लेकिन पैसों की आर्थिक तंगी के कारण वह करने में असमर्थ हैं। सरकार द्वारा इन्हीं लोगों की समस्या का समाधान निकालते हुए बकरी पालन लोन योजना की शुरूआत की गई है ।

बकरी पालन लोन सब्सिडी –

विशेषता विवरण
योजना का नाम बकरी पालन योजना, राजस्थान
योजना शुरू की राजस्थान सरकार द्वारा
उद्देश्य राज्य में बेरोजगारी कम करना और किसानों की आय दोगुनी करना
वर्ष 2024
लाभार्थी राज्य के किसान और बेरोजगार नागरिक
आवेदन की प्रक्रिया ऑफलाइन
लाभ राज्य के सभी पात्र नागरिकों को रोजगार प्रदान करना और किसानों की आय को दोगुना करना
श्रेणी राजस्थान सरकार योजनाएं

इस दिन जारी होगी पहली किस्त

योजना के लाभ एवं विशेषताएं –

  • बकरी पालन लोन योजना का संचालन राजस्थान सरकार द्वारा किया जा रहा है।
  • इस योजना में सरकार द्वारा बकरी पालन की इच्छा रखने वाले लोगों को 50 हजार से लेकर 50 लाख तक का लोन दिया जाता है।
  • सरकार द्वारा दिए जाने वाला लोन बैंक के माध्यम से उपलब्ध कराया जाता है।
  • इस योजना का लाभ राजस्थान के ग्रामीण क्षेत्र के लोगों को मिलता है जो नए सिरे से रोजगार शुरू करना चाहते हैं।
  • इस योजना के संचालन से ग्रामीण क्षेत्र में रोजगार के स्तर में बढ़ोतरी होगा।

योजना के लिए पात्रता –

  1. बकरी पालन लोन योजना का लाभ राजस्थान के मूल निवासी परिवारों को प्राप्त होगा।
  2. आवेदक की उम्र 18 से 65 वर्ष के बीच होना चाहिए।
  3. आवेदक के पास 0.25 एकड़ की भूमि पशुओं के चारागाह के लिए होना जरूरी है।
  4. आवेदक को लोन 20 बकरी 1 बकरा, 40 बकरी 2 बकरा के अनुसार दिया जाता है।

योजना के लिए दस्तावेज –

  • आधार कार्ड
  • पहचान पत्र
  • निवास प्रमाण पत्र
  • जमीन से जुड़े पेपर
  • बैंक के खाता
  • पासपोर्ट साइज फोटो
  • मोबाइल नंबर
  • बैंक स्टेटमेंट
  • बकरी फार्म की बिजनेस रिपोर्ट

- Install Android App -

मोदी ने किया ऐलान, अब बिना आयुष्मान के भी होगा मुफ्त उपचार

योजना के लिए आवेदन प्रक्रिया –

Bakri Palan Loan Yojana के तहत लाभ लेने के लिए उम्मीदवारों को ऑफलाइन माध्यम से आवेदन करना होगा जिसकी पूरी प्रक्रिया हम आपको आगे बता रहे हैं –

  1. बकरी पालन लोन योजना में आवेदन करने के लिए सबसे पहले आपके नजदीकी पशु चिकित्सा कार्यालय में जाना होगा।
  2. कार्यालय में जाने के पश्चात वहां से आपको बकरी पालन लोन योजना का एप्लीकेशन फार्म प्राप्त करना है।
  3. एप्लीकेशन फॉर्म प्राप्त करने के पश्चात आपको आवेदन फार्म को ध्यानपूर्वक भरना है।
  4. इसके बाद जरूरी दस्तावेजों को फॉर्म के साथ अटैच कर देना है और कार्यालय में जमा कर देना हो।
  5. इसके बाद आपके आवेदन का जांच किया जाएगा।
  6. जांच करने के बाद सरकारी अधिकारियों के द्वारा आपसे संपर्क किया जाएगा, इसके पश्चात आपको लोन की राशि उपलब्ध कराई जाएगी।

Makdai Express 24 Social Media Handles

FAQs: बकरी पालन लोन सब्सिडी राजस्थान –

  1. बकरी पालन लोन सब्सिडी योजना क्या है?
    • बकरी पालन लोन सब्सिडी योजना राजस्थान सरकार द्वारा संचालित एक योजना है, जिसका उद्देश्य छोटे किसानों और पशुपालकों को बकरी पालन के लिए वित्तीय सहायता प्रदान करना है।
  2. इस योजना के तहत कितनी सब्सिडी मिलती है?
    • योजना के तहत किसानों को लोन पर 25% से 35% तक की सब्सिडी मिल सकती है। अनुसूचित जाति/जनजाति के लाभार्थियों को उच्च सब्सिडी मिलती है।
  3. बकरी पालन लोन के लिए कौन आवेदन कर सकता है?
    • राजस्थान का कोई भी निवासी, जो बकरी पालन में रुचि रखता है और बकरी पालन का व्यवसाय शुरू करना चाहता है, इस योजना के तहत आवेदन कर सकता है।
  4. इस योजना के लिए आवश्यक दस्तावेज़ क्या हैं?
    • आधार कार्ड, पहचान पत्र, निवास प्रमाण पत्र, जाति प्रमाण पत्र (यदि लागू हो), बैंक खाता विवरण, और बकरी पालन योजना का विवरण सहित अन्य आवश्यक दस्तावेज़।
  5. लोन आवेदन प्रक्रिया क्या है?
    • आवेदन करने के लिए, लाभार्थी को नजदीकी पशुपालन विभाग या संबंधित बैंक शाखा में जाकर आवेदन फॉर्म भरना होगा। इसके बाद सभी आवश्यक दस्तावेज़ संलग्न करके जमा करने होंगे।
  6. लोन की राशि कितनी हो सकती है?
    • लोन की राशि बकरी पालन व्यवसाय की योजना और आवश्यकता के अनुसार निर्धारित की जाती है। यह राशि 50,000 रुपये से लेकर 5 लाख रुपये तक हो सकती है।
  7. लोन की पुनर्भुगतान अवधि कितनी होती है?
    • लोन की पुनर्भुगतान अवधि आमतौर पर 3 से 7 साल के बीच होती है। बैंक और योजना के नियमों के अनुसार यह अवधि अलग-अलग हो सकती है।
  8. क्या कोई प्रशिक्षण या सहायता उपलब्ध है?
    • हां, राज्य सरकार और संबंधित विभाग बकरी पालन के लिए प्रशिक्षण और तकनीकी सहायता भी प्रदान करते हैं ताकि लाभार्थी सफलतापूर्वक अपना व्यवसाय शुरू कर सके।
  9. योजना का मुख्य उद्देश्य क्या है?
    • योजना का मुख्य उद्देश्य ग्रामीण क्षेत्रों में रोजगार सृजन, आर्थिक विकास, और दुग्ध उत्पादन को बढ़ावा देना है। इसके अलावा, यह योजना किसानों की आय में वृद्धि और गरीबी उन्मूलन में भी मदद करती है।
  10. अधिक जानकारी के लिए कहां संपर्क करें?
    • अधिक जानकारी के लिए, लाभार्थी अपने नजदीकी पशुपालन विभाग, जिला पशुपालन अधिकारी, या संबंधित बैंक शाखा से संपर्क कर सकते हैं। इसके अलावा, राज्य सरकार की आधिकारिक वेबसाइट पर भी जानकारी उपलब्ध होती है।

Mahtari Vandan Yojana New List release: सिर्फ इन महिलाओं को मिलेगा ₹1000, देखे अपना नाम

 

Don`t copy text!