ब्रेकिंग
Harda News: कलेक्टर श्री आदित्य सिंह ने बैठक में दिये निर्देश: सभी विभागों की रंगाई पुताई हो, साफ सफ... Harda News: अत्याचार निवारण अधिनियम के तहत पीड़ितों को पात्रतानुसार राहत दिलाएं: कलेक्टर श्री सिंह ने... Harda News: अमानक कीट नाशक व खाद बीज विक्रय करने वाले संस्थानों के लायसेंस निलंबित व निरस्त करने की... Rajgarh News : आपसी विवाद में पति ने पत्नि पर किया फायर, पत्नि की हुई मौत Crime News : 21 वर्षीय स्टेज परफाॅर्मर से साथियों ने नशीला पदार्थ खिलाकर किया गैंगरेप Pradhan Mantri Awas Yojana: प्रधानमंत्री आवास योजना के अंतर्गत आवेदन प्रक्रिया हुई शुरू, ऐसे करें अप... इस दिन होगा लाडली बहना योजना का तीसरा चरण शुरू, राज्य की वंचित महिलाएं कर सकेंगी आवेदन फार्म जमा, दे... CM Kisan Kalyan Yojana: के अंतर्गत ऐसे करें आवेदन फार्म जमा, मिलेगा ₹6000 का लाभ, देखिए पूरी जानकारी Ladli Bahana Awas Yojana: मध्य प्रदेश सरकार लाडली बहना आवास योजना की पहली किस्त में देगी ₹30000, यहा... 'फ्री सिलाई मशीन योजना 2024' के अंतर्गत भारत सरकार महिलाओं को मुफ्त में देगी सिलाई मशीन, यहां देखें ...

Makar Sankranti: पतंगबाजी इंसान और पक्षियों की लेता है जान : प्रतिबंध के बावजूद बिक रहा चायनीज मांझा, बाइक सवार युवक की मौत, कई हुए घायल,

चायनीज मांझे से लोग घायल हो रहे तो सवाल यह है कि आखिर प्रशासन ने क्षेत्र में चाइनीज मांझे की बिक्री और भंडारण पर रोक क्यूं नही लगा पाई जबकि चायनीज मांझा मा.न्यायालय के आदेशानुसार प्रतिबंधित है।

मकड़ाई एक्सप्रेस 24 भोपाल : मकर संक्रांति का पर्व आज उत्साह के साथ मनाया जा रहा है। हर त्यौहार खुशिया और उत्साह लेकर आता है जहां वर्ष के प्रारंभ के साथ ही मकर सक्रांति का पर्व तिल गुड़ की मिठास  और भगवान सूर्य की उपासना पवित्र नदियों स्नान दान दक्षिणा के साथ मनाया जा रहा है, तो इसी पर्व से जुड़ी एक प्रथा ने लोगो को दुखी भी कर रखा वह है पतंगबाजी।
इस त्यौहार पर लोग उत्साह और खुशी में पतंग उड़ाते है यह कोई गलत भी नही है बताते है इंसान के दुर्भाग्य और बुरी नजर इस पतंग के सहारे आसमान में चली जाती हैं | इसलिए पतंग उड़ाना अच्छी बात है मगर ये नुकसानदायक तब हो जाती है जब इसको उड़ाने के लिए लोग चायनीज मांझे का उपयोग करते है और चायनीज मांजे में पतंग इसलिए उड़ाते है ताकि दूसरो की पतंग को काट सकें। इसके चक्कर में कई इंसान और पक्षी अपनी जान गवा देते है।
ज्ञात हो कि पूर्व में सरकार ने इस मांझे के प्रयोग को प्रतिबंधित कर रखा है। इस मांजे के कारण कई लोग की जान जा चुकी हैं कोई वाहन से जा रहा है अचानक उसके सामने पतंग आ जाती है और मांझा गले में फंस जाता है जिससे लोग घायल हो जाते है। आसमान में पतंग उड़ते समय कई पक्षी भी चायनीज मांझे से घायल हो जाते है।राह चलते लोगो के लिए भी नुकसान दायक है।
अब यक्ष प्रश्न यह है कि इस चायनीज मांझे को कौन सप्लाई कर रहा हैं और स्थानीय स्तर पर पतंग विक्रेताओं पर अब तक कार्यवाही क्यूं नही की गई। स्थानीय प्रशासन को मालूम है कि मकर संक्राति के दिन लोग पतंग उड़ायेगें तो पहले ही चायनीज मांझे पर पतंग विक्रेता को समझाईश देनी चाहिए मगर प्रशासन की लापरवाही भी सामने आती हैं और कुछ रुपयों के लालच में आकर इसे बेच रहे है।

मीडिया सूत्रों के अनुसार धार में रविवार की शाम चाइनीज मांझे से बाइक पर बैठा कनिष्क पुत्र विनोद चौहान निवासी लुनियापुरा चपेट आ गई उसकी गर्दन कटने से उसकी मौत हो गई। वही मंगलवार की शाम को छिंदवाड़ा में सिवनी रोड पर थाने के पास बाइक सवार सतीश यादव का गला चाइनीज मांझे से बुरी तरह कटने से युवक घायल हो गया। 20 दिसंबर को पटाखा गोदाम के पास बाइक सवार युवक का गला चाइनीज मांझे से कट गया था। दूसरे के चेहरे पर घाव लगा था।इस प्रकार की घटनाएं सामने आने के बाद भी स्थानीय प्रशासन को सख्त कार्यवाही करनी ही चाहिए।ऐसा नही होने पर और न जाने कितने लोगो के गले यह चायनीज मांझा काटता रहेगा।

यह भी पढ़े-

- Install Android App -

Don`t copy text!