ब्रेकिंग
हरदा: बलाही समाज की बेटियों को आत्मनिर्भर बनाने के लिए 18 कन्याओं को निशुल्क सिलाई मशीन वितरण की गई, श्री गणेश भावसार पालक महासंघ मध्यप्रदेश (रजि.) के खंडवा जिला अध्यक्ष नियुक्त हंडिया : आधा घंटा हुई झमाझम बारिश,मौसम हुआ सुहाना, Harda:एक पौधा मां के नाम" अभियान के तहत सर्किट हाउस परिसर में हुआ पौधारोपण, कलेक्टर श्री सिंह और अन्... Harda Big news: सोने चांदी के आभूषण चोरी करने वाले 03 आरोपी गिरफ्तार, 1 लाख 65 हजार के सोने चांदी के... सरकार की शिक्षा विभाग में लचर व्यवस्था आई सामने,जिला अधिकारी का पुतला दहन करेंगे अभाविप , दिया पुलिस... ब्राह्मण समाज हरदा ने पर्यावरण प्रेमी गौरीशंकर मुकाती का सम्मान किया । सिवनी मालवा: शाम होते ही शराबी सड़क पर झलकाते है जाम, पार्किंग सड़क पर आमजन होते है परेशान, Aaj ka rashifal: आज दिनांक 14/07/2024 का राशिफल जानिए आज क्या कहते है आपके भाग्य के सितारे Khandwa News: नेशनल लोक अदालत शिविर संपन्न ( महापौर ने किया, गुरूपूर्णिमा मेला स्थलो का निरीक्षण )

MP News: चीता आशा ने नए साल में कूनो में तीन शावकों को दिया जन्म | Kuno National Park.

श्योपुर : मध्यप्रदेश के कूनो नेशनल पार्क में दूसरी बार चीता आशा ने शावकों का जन्म दिया। नए साल में कूनो नेशनल पार्क से अच्छी खबर आई है। तीनों शावक अभी स्वस्थ हैं। केंद्रीय वन एवं पर्यावरण मंत्री भूपेंद्र यादव ने शावकों के वीडियो शेयर किए हैं। वीडियो में तीनों स्वस्थ दिख रहे हैं।

केंद्रीय मंत्री भूपेंद्र यादव ने एक्स पर लिखा है कि यह बताते हुए हमें खुशी हो रही है कि कूनो नेशनल पार्क ने तीन नए सदस्यों का स्वागत किया है। नामीबियाई चीता आशा ने शावकों को जन्म दिया है। यह पीएम नरेंद्र मोदी परिकल्पित प्रोजेक्ट चीता की जबरदस्त सफलता है। उन्होंने आगे लिखा कि परियोजना में शामिल सभी विशेषज्ञों और कूनो नेशनल पार्क के अधिकारियों को मेरी ओर से बहुत-बहुत बधाई।

मालूम हो की –प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के जन्मदिन पर सबसे पहले 17 सितंबर 2022 को नामीबिया से लाए गए आठ चीते छोड़े गए थे। इसके बाद 18 फरवरी 2023 को दक्षिण अफ्रीका से 12 चीते कूनो जंगल में लाकर छोड़े गए थे। कूनो जंगल में कुल 20 चीते लाए गए थे, इनमें से छह चीतों की मौत हो गई है। कूनो जंगल में अभी कुल 14 बड़े चीते बचे हुए हैं और एक शावक है। वहीं, तीन नए शावकों के जन्म के बाद कूनो में चीतों का कूनबा बढ़ गया है।

आशा चिता और शावकों को कूनो नेशनल पार्क में चीतों को अभी बाड़े में रखा गया है। कुछ दिनों से एक-एक कर चीतों को बाड़े में छोड़ा जा रहा है। साथ ही कूनो नेशनल पार्क में चीता सफारी की शुरुआत भी कर दी गई है। अब पर्यटक भी चीता का दीदार कर सकेंगे। इधर नवजात शावकों के विडियो सोशल मिडिया पर आने के बाद वन प्रेमियों में खुशी की लहर है | बही प्रदेश के मुखिया मोहन यादव ने भी नेशनल पार्क में नए शावकों के जन्म लेने पर हर्ष ब्यक्त किया है |

- Install Android App -

Don`t copy text!