ब्रेकिंग
Ladli Behna Yojana 3rd Round : अब लाडली बहनों को नहीं करना होगा तीसरे चरण का इंतजार, अभी तुरंत देखें... MP Cycle Distribution Scheme 2024: राज्य सरकार मुफ्त में देगी साइकिल, देखे पूरी जानकारी Rewa News : विंध्या श्रीवास्तव से हुई लूट के आरोपी पुलिस ने पकड़े लूट का माल जब्त किया Khandwa News: खंडवा इंदौर रोड पर तेज रफ्तार डंपर यात्री बस में भिड़त, 20 यात्री घायल vedic clock In Ujjain: उज्जैन में दुनिया की पहली वैदिक घड़ी का 01 मार्च को वर्चुअली अनावरण करेंगे PM... Harda News: किसान की गोली मारकर हत्या मामले में 24 घंटे में हंडिया पुलिस ने किया खुलासा, दो आरोपी गि... Harda: सिटी कोतवाली पुलिस ने पशु क्रूरता के मुख्य आरोपी फहाद को किया गिरफ्तार Harda Big news: व्हाट्सएप पर बंदूक लहराते विडियो हुआ था वायरल, पुलिस ने आरोपी युवक को पकड़ा देशी पिस... Aaj Ka Rashifal: आज 27/02/2024 का राशिफल, Daily Horoscope हरदा: अति ओलावृष्टि से बर्बाद हुई फसल, पहाड़ी क्षेत्र के कई गांवों में हुई बारिश, कई मकानों के कवेलु...

Abu Dhabi: मुस्लिम देश आबू धाबी में बन रहा भव्य मंदिर, पीएम मोदी करेगें उद्घाटन

मकड़ाई एक्सप्रेस 24 नई दिल्ली : प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी अगले साल 14 फरवरी को अबू धाबी में हिंदू मंदिर के उद्घाटन समारोह में शामिल होंगे। मंदिर का निर्माण कर रही संस्था बीपीएस के स्वामी ईश्वरचरणदास और स्वामी ब्रह्म बिहारी दास ने नरेंद्र मोदी को मंदिर उद्घाटन के लिए निमंत्रण दिया, जिसे उन्होंने स्वीकार कर लिया है।
मुस्लिम देश संयुक्त अरब अमीरात UAE की राजधानी अबू धाबी में बन रहा है। जानकारी के अनुसार ये काफी बड़ा और भव्य हिंदू मंदिर है | जो कि अयोध्या के राम मंदिर की तरह काफी भव्य और शानदार है। यह मंदिर करीब 55,000 वर्ग मीटर में बन रहा है। मंदिर बनाने में और वहां नक्काशी के लिए भारतीय कारीगरों ने अपनी कला कुशलता दिखलाई है। भारत और यूएई को बीच सद्भाव के प्रतीक के तौर पर इस मंदिर का निर्माण हो रहा है। इस मंदिर की सबसे बड़ी बात तो यह है कि एक मुस्लिम देश में हिंदूओ का भव्य दिव्य मंदिर है। साल 2015 में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी यूएई की अपनी यात्रा पर गए थे, तब इस मंदिर को लेकर चर्चा हुई थी। जिसके लिए यूएई की सरकार ने आबू धाबी में मंदिर के लिए जमीन दान की थी। दो साल बाद 2017 में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के जरिए इस मंदिर की नींव रखी गई। मंदिर के निर्माण में 50,000 से अधिक लोगों ने ईंटें रखी हैं|

यह भी पढ़े-

- Install Android App -

Don`t copy text!