ब्रेकिंग
katni News :सुंअर का शिकार करने वाले 10 लोगो को वनकर्मियों ने पकड़ा, ग्रामीण उन्हे छुड़ाकर अपने साथ ले... Accident News : तेज रफ्तार ट्रक ने महिला को मारी टक्कर मौके पर हुई मौत, भीड़ ने किया चक्काजाम Sirali news: सिराली में आदिवासी की मानव सुधार पट्टा से पिटाई, 40 हजार की घुस मामले में जयश कल 25 फरव... Harda : कट्टा लहराते धमकी देते गुंडों का वायरल हुआ था विडियो, एसपी ने लिया एक्शन, पुलिस ने 24 घंटो म... Aaj Ka Rashifal: आज 24/02/2024 का राशिफल, Daily Horoscope हरदा ब्लास्ट : भूख हड़ताल के पहले दिन प्रशासन की तरफ दागे गए अनसुलझे सवाल , जवाब न मिलने तक आगे बातची... हंडिया:सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र हंडिया में अरुण तिवारी बने विधायक प्रतिनिधि नियुक्त, Harda: अवैध कुलावे से  बर्बाद हो रहा  सरकार का पानी और राजस्व, सिंचाई विभाग की नाक के नीचे चल रहे  अ... Harda Mandi Bhav: आज 23/02/2024 का हरदा, सिराली, टिमरनी, खिरकिया मंडी भाव | Harda Mandi Rates Today Harda News: अवैध मदिरा के विक्रय व संग्रहण के विरूद्ध कार्यवाही कर 10 प्रकरण दर्ज किये

भगवती नर्सिंग होम में बहुचर्चित अबोध बालिका हत्याकांड मामले में , फिर खुली फाईल हाईकोर्ट के आदेश के बाद आज भगवती नर्सिंग होम जांच करने पहुंची पुलिस

हरदा। हाईकोर्ट के आदेश के बाद बहुचर्चित अबोध बालिका के गर्दन काटकर हत्या करने का केस की फाईल फिर से खुल गई हैं। वर्ष 2020 में अर्जुन पटेल के बेटे युवराज पटेल निवासी अवगांव खुर्द के द्वारा अपने घर पर काम करने वाली एक 15 वर्षीय नाबालिग आदिवासी बच्ची के साथ कई बार बलात्कार किया था।
जब वह नाबालिग बच्ची गर्भवती हो गई तो उसका गर्भपात कराने के उद्देशय से उसके गर्भ में पल रहे बच्चे को मारने तथा बलात्कार के सबूत मिटाने के लिये उस बच्ची को अर्जुन पटेल के द्वारा शहर के प्रसिद्ध डाॅक्टर मनीष शर्मा के पास ले जाया गया। इसके बाद षडयंत्र रचकर उसे भगवती नर्सिंग होम मे भर्ती कराया गया। भगवती नर्सिंग होम में उसे दवाएं और इंजेक्शन दिये गये जिसके बाद उसके गर्भ से उत्पन्न हुई संतान के गले को सर्जिकल ब्लेड से काटकर उसकी बेरहमी के साथ हत्या कर दी गई थी।
इसके बाद मामला न्यायालय में पहुंचा पंरंतु पुलिस के द्वारा इस मामले में नाबालिग पीड़िता और उसकी मां को ही आरोपी बना दिया गया। साथ ही अर्जुन् पटेल और उसके लड़के को भी आरोपी बनाया गया। परंतु पुलिस के द्वारा डाॅक्टर मनीष शर्मा, भगवती नर्सिंग होम के संचालक डाॅ. आरबी पटेल एवं नर्सिंग स्टाॅफ को आरोपी नहीं बनाया।
इसके बाद पीड़िता के द्वारा शहर के अधिवक्ता अनिल जाट के माध्यम से इस केस को रिओपन कराने के लिये हाईकोर्ट में याचिका लगाई। हाईकोर्ट के द्वारा पीछले माह की तीस तारीख को ही इस केस में फिरसे जांच करने के आदेश दिये हैं।
हाईकोर्ट के इसी आदेश के संबंध में उप पुलिस अधीक्षक थाना अजाक आज सुबह सुनील लाड भगवती नर्सिंग होम जांच करने पहुंचे उनके द्वारा घटना स्थल को देखा और जांच की गई।
सुत्रों से मिली जानकारी के अनुसार हाईकोर्ट के आदेश के बाद उप पुलिस अधीक्षक के द्वारा इस मामले में डाॅक्टर मनीष शर्मा, डाॅ. आरबी पटेल और इस प्रकरण से जुडे हुए सभी लेागों के बयान ले रहे हैं।
सुत्रों की माने तो इस केस में जल्द ही डाॅ. मनीष शर्मा, डाॅ. आरबी पटेल और भगवती नर्सिंग होम में काम करने वाली नर्से आरोपी बना सकती हैं।

एक्सपर्ट ब्यू
इस मामले में पीड़ित नाबालिग के अधिवक्ता अनिल जाट से पूछा गया तो उनके द्वारा बताया गया कि हमें न्यायपालिका और पुलिस प्रशासन पर पूर्ण भरोसा हैं। हम नाबालिग पीड़िता को न्याय दिलाकर रहेंगे और इस केस के असल आरोपी हैं और जिन डाॅक्टरों ने इस हत्याकांड में सहयोग किया हैं उन्हें सजा दिलाकर रहेंगे।

 

जब मीडिया पुलिस वाहन के पीछे – पीछे घटनास्थल भगवती नर्सिंग होम पहुंची तो भगवती नर्सिंग होम के मालिक डाॅ.आरबी पटेल ने मीडिया को देखते ही हडबडा गए और अपना आपा खो बैठे तथा मीडिया को मामले से दूर रहने की हिदायत देते हुए अस्पताल परिसर से बाहर जाने को कहा।

यह भी पढ़े-

- Install Android App -

Don`t copy text!