ब्रेकिंग
Weathar Update: मौसम ने बदले तेवर छिंदवाड़ा, बैतूल सहित म.प्र. के शहरों में हुई वर्षा गिरे ओले Ladli Behna Yojana 3rd Round : अब लाडली बहनों को नहीं करना होगा तीसरे चरण का इंतजार, अभी तुरंत देखें... MP Cycle Distribution Scheme 2024: राज्य सरकार मुफ्त में देगी साइकिल, देखे पूरी जानकारी Rewa News : विंध्या श्रीवास्तव से हुई लूट के आरोपी पुलिस ने पकड़े लूट का माल जब्त किया Khandwa News: खंडवा इंदौर रोड पर तेज रफ्तार डंपर यात्री बस में भिड़त, 20 यात्री घायल vedic clock In Ujjain: उज्जैन में दुनिया की पहली वैदिक घड़ी का 01 मार्च को वर्चुअली अनावरण करेंगे PM... Harda News: किसान की गोली मारकर हत्या मामले में 24 घंटे में हंडिया पुलिस ने किया खुलासा, दो आरोपी गि... Harda: सिटी कोतवाली पुलिस ने पशु क्रूरता के मुख्य आरोपी फहाद को किया गिरफ्तार Harda Big news: व्हाट्सएप पर बंदूक लहराते विडियो हुआ था वायरल, पुलिस ने आरोपी युवक को पकड़ा देशी पिस... Aaj Ka Rashifal: आज 27/02/2024 का राशिफल, Daily Horoscope

हरदा : कांग्रेस के वरिष्ठ नेता गुरु के  निष्कासन को सही और गलत ठहराया गया !  पढ़िए किसने क्या कहा !

हरदा : वरिष्ठ कांग्रेसी प्रकाशचंद्र वशिष्ठ ‘गुरु’ के कांग्रेस पार्टी से 6 साल के निष्कासन पर शीतलहर के बीच माहौल गर्मा गया है।  सेठ गुट के विश्वसनीय व चाणक्य माने जाने वाले वरिष्ठ नेता के निष्कासन पर पार्टी के ही लोगों की मिली जुली प्रतिक्रिया हासिल हुई है।  कुछ प्रतिक्रिया में जहां पार्टी के फैसले को सही ठहराया गया है तो वहीं अन्य प्रतिक्रिया में बिना शोकाज दिए ऐसे फैसले को तानाशाही करार दिया गया है।

इधर, भाजपा के कांग्रेस प्रकोष्ठ और कांग्रेस के भाजपा प्रकोष्ठ को लेकर जनचर्चा के दौर अभी भी चल रहे हैं।

मकड़ाई एक्सप्रेस ने शहर में कांग्रेस पार्टी से जुड़े कई लोगों की प्रतिक्रिया ली गयी। भाजपा के जिलाध्यक्ष से भी उनकी राय ली गयी। जनता जनार्दन की अदालत में ये सभी प्रतिक्रियाएं सादर प्रस्तुत हैं –

◆ पार्टी ने सही किया। पार्टी विरोधी काम हमेशा गुरु ने किया। खुलेआम भाजपा के लिए इन्होंने काम किया। जबकि कांग्रेस ने इनको मान सम्मान सब कुछ दिया।
– यूसुफ बाबा वरिष्ठ कांग्रेसी

◆ पार्टी ने गलत निर्णय लिया। प्रकाश गुरु ने पार्टी से वर्षो से जुड़े हैं। पार्टी के लिए बहुत काम किया। किसी भी प्रकार का कोई शोकाज नोटिस उन्हे नही दिया। सीधे कार्यवाही करना गलत है।
– पंकज बाफना हरदा

◆ चालीस साल से जुड़े हुए पदाधिकारी वरिष्ठ व्यक्ति को बिना किसी आधार के निकालना गलत है। पार्टी को इससे नुकसान होगा ,फायदा नही
– अशोक बंसल

◆  प्रकाश गुरु जैसे वरिष्ठ कांग्रेस नेता जो कि प्रदेश सचिव हैं। उनको हटाना तानाशाही की पराकाष्ठा है। अनुशासन हीनता की थी तो पहले कारण बताओ नोटिस देना था। उनके विचार से संतुष्ट नही होने पर आप कार्यवाही करते। ये कार्यवाही गलत है।
– अशोक नेगी वरिष्ठ कांग्रेसी

◆ कांग्रेस जिलाध्यक्ष के पास विधायक और नेता प्रतिपक्ष ने शिकायत आवेदन दिया था। पार्टी ने कुछ सोच समझकर ही निर्णय लिया होगा।

– रविशंकर शर्मा वरिष्ठ काग्रेस नेता

 

यह भी पढ़े-

- Install Android App -

◆  पार्टी ने नेक निर्णय लिया है।
– संजय पस्टारिया कांग्रेस नेता

◆ नगर पालिका चुनाव में पार्टी के विरोध में इन्होंने काम किया था। मुझे मेरे वार्ड के कार्यकर्ता सहित अन्य जगह से कार्यकर्ताओं ने फोन करके कहा । उस समय  एक निर्दलीय इनका ही खास समर्थक था। उसे इन्होंने ही खड़ा करवाया था। जिसको लेकर मेने पूर्व में शिकायत की थी  दो लोगो को पूर्व में  पार्टी ने निकाला था। तीन लोगो की शिकायत की थी।

– अमर रोचलानी नेता प्रतिपक्ष हरदा नगर पालिका

◆ मैं तो किसी भी पार्टी से जुड़ा हुआ नही हूँ। मैं एक व्यापारी हूं । मैं क्या प्रतिक्रिया दूँ । पार्टी से जुड़े लोग ही प्रतिक्रिया देंगे।

– देवव्रत अग्रवाल

●  ये कांग्रेस पार्टी व्यक्तिगत मामला है। फिर भी वो वरिष्ठ नेता है। एम उन्होने कांग्रेस के लिए काम किया था। हमारे प्रत्याशी के विरोध में काम किया था। पार्टी को सोच समझकर निर्णय लेना चाहिए।

– राजेश वर्मा भाजपा जिलाध्यक्ष

Don`t copy text!