ब्रेकिंग
हरदा: गैस सिलेण्डर अधिक मात्रा में संग्रहित होने पर तत्काल सूचित करें इन नंबरों पर Harda: गेहूँ उपार्जन हेतु 1 व चना उपार्जन हेतु 10 मार्च तक होंगे किसान पंजीयन Aaj Ka Rashifal: आज 28/01/2024 का राशिफल, Daily Horoscope Harda News: उपभोक्ता आयोग हरदा का आदेश: बैंक मैनेजरों को उपभोक्ता आयोग का कारण बताओ नोटिस जारी टिमरनी : खनिज विभाग की रेत माफियाओं से सांठ गांठ विधायक अभिजीत शाह पकड़ रहे अवैध रेत की ट्रेक्टर ट्रा... Harda News: अतिवृष्टि ओलावृष्टि से तबाह हुई किसानो की फसल, विधायक अभिजीत शाह पहुंचे खेतो में Harda News: राष्ट्रीय राजमार्ग निर्माण एजेंसी ठेकेदार द्वारा किसानों के खेतो में जाने वाले मार्ग को ... Breaking News: अब प्रदेश के मुख्य पर्यटन स्थलों को PPP मॉडल के तहत हवाई मार्ग से जोड़ा जाएगा साथ ही ... ग्राम पंचायत सचिव भर्ती 2024: पंचायत सचिव के 8000 पदों पर निकली भर्ती, ऐसे करे आवेदन PM Ujjwala Yojana 2024 : केंद्र सरकार ने किया बड़ा बदलाव, अब सिर्फ इन महिलाओं को मिलेगा लाभ

हरदा : हाईप्रोफाइल मामला | होटल मालिक के पुत्र की जमानत याचिका हुई खारिज, बहु ने लगाया था दहेज प्रताड़ना केस

हरदा / उदयपुर : दहेज प्रताडना के उदयपुर राजस्थान के मामले में हरदा के अन्नपूर्णा भोजनालय के संचालक गुरमुख पेशवानी के पुत्र हिमांशु पेशवानी की अग्रिम जमानत निरस्त हुई। मिली जानकारी के अनुसार हरदा के अन्नपूर्णा भोजनालय के संचालक गुरमुख पेशवानी के पुत्र हिमांशु पेशवानी की ससुराल उदयपुर राजस्थान में है। गुरमुख की पुत्रवधु के द्वारा अपने पति हिमांशु पेशवानी, ससुर गुरमुख, सास अंजू पेशवानी, भांजा विक्की हिमानी उसकी पत्नि पूजा हिमानी एवं देवर राहुल पेशवानी के
विरूध्द महिला थाना उदयपुर राजस्थान में दहेज प्रताडना, छेडछाड, मारपीट एवं धोखाधडी का अपराध कमांक 197/2023 अंतर्गत धारा 498ए, 406, 420, 354, 341 323 भारतीय दण्ड संहिता का दिनांक 11/10/2023 को पंजीबंध्द करवाया है, इस मामले में अभी कुछ दिन पूर्व ही उदयपुर राजस्थान की पुलिस आरोपीयों को पकडने हरदा आई थी। परंतु वह नही मिले उसके बाद पति हिमांशु पेशवानी की और से उदयपुर सेशन न्यायालय महिला उत्पीडन जिला न्यायाधीश संवर्ग के समक्ष अग्रिम जमानत
का आवेदनपत्र पेश किया।

जिसका प्रकरण कमांक –

07/2024 आरजेयूडी010000502024 में आज दिनांक 09/01/2024 को आदेश पारित किया, एवं पति हिमांशु पेशवानी की अग्रिम जमानत का आवेदनपत्र अस्वीकार कर खारिज कर दिया गया।
माननीय न्यायालय ने यह पाया कि, प्रार्थी/अभियुक्त हिमांशु मुख्य अभियुक्त है, एवं उसके विरूध्द आलिप्तकारी साक्ष्य है, इस कारण उसको अग्रिम जमानत का लाभ दिया जाना उचित प्रतीत नही होता है ।

यह भी पढ़े-

- Install Android App -

Don`t copy text!