ब्रेकिंग
क्यों होता है थाने में हनुमान मंदिर | Why is there Hanuman temple in the police station? हंडिया : सड़क की सेफ्टी बाल टूटी सड़क बहने का खतरा बढ़ा। सिवनी मालव : चिकित्सक कराते रहे एनक्यूएएस की टीम को जलपान: सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में घंटों मरीज... Big News: Cm योगी आदित्यनाथ को मिली बम से उड़ाने की धमकी, सोशल मिडिया एक्स पर 5 दिन मे बम से उड़ाने क... Britain News: ब्रिटेन मे लीड्स शहर मे दंगे, मास्क पहने आरोपियो ने जमकर तोड़ फोड़ की वाहनो को पलटा कां... Mp Big News: प्रधान पाठिका को जातिप्रमाण पत्र के लिये 250 रुपए लेना पड़ा महंगा, पालक ने बनाया विडियो ... Big Breaking: बांग्लादेश का छात्र विरोध प्रदर्शन देश के लिए सबसे घातक हो रहा है। छात्रों ने कई सरकार... Khandwa Big News : वन विभाग गश्ती टीम ने ढाई लाख की सागौन व दो तस्कर पकड़े, पकड़े गए आरोपी बोले मुख्... Sariya Rate Mp (19/07/2024): गिरे सरिया के दाम, मकान बनवाने वालों के लिए बड़ी खुशखबरी, देखें आज के त... Harda Mandi Bhav | हरदा, सिराली, टिमरनी, खिरकिया मंडी भाव | 19 जुलाई 2024

बारिश में पेड़ के नीचे खड़े होकर बिजली को न दें आमंत्रण – सारिका घारू

भोपाल। अप्रैल माह में गर्मी का अहसास को भुलाते हुये छाते , रेनकोट की याद दिलाने वाली बारिश ने सभी निर्धारित कार्यक्रमों पर असर डाला है । अब जबकि गर्मी से बचने की तैयारी की जा रही थी तब ही बारिश अपना ट्रेलर दिखा रही है । इस बारिश के साथ डराने वाली बिजली की चमक और गर्जना कई लोगों में भय उत्पन्न कर रही है । अपने दैनिक कार्यों को करते समय कई बार आमलोग इस बारिश से बचने पेड़ों के नीचे खड़े होकर बचने का प्रयास करते हैं लेकिन यह जहां कुछ देर तक भीगने से तो बचा सकता है लेकिन आसमानी बिजली को आपकी ओर आमंत्रित भी कर सकता है । इस बारे में सतर्क करने नेशनल अवार्ड प्राप्‍त विज्ञान प्रसारक सारिका घारू ने बिजली से बचाव के लिये जागरूक कर रही हैं ।

बादल गरजे, बिजली चमके ,नहीं खड़ें होना पेड़ के पास , बात यह खास रखना है याद , इस तरह का गीतमय संदेश देकर सारिका द्वारा आपदा प्रबंधन के बारे में सतर्क किया जा रहा है ।

सारिका ने बताया कि बरसात के इन दिनों में आकाशीय बिजली के गिरने से नुकसान की खबरें आती रहती हैं । पेड़ के नीचे खड़े रहने वाले अक्‍सर इसके शिकार होते हैं । चूंकि बिजली किसी सहारे से पृथ्‍वी तक पहुंचना चाहती हे इस कारण बिजली पेड़ों की तरफ आकर्षित होती है ।

सारिका ने कहा कि बिजली चमकते समय वृक्ष के नीचे न खड़े हों । किसी मकान में आश्रय ले सकते हें । अगर बंद वाहन में यात्रा कर रहे हैं तो वाहन के अंदर ही रहें । खुली छत वाले वाहन में यात्रा न करें । बिजली या अन्‍य धातु के खंभे से दूर रहें । घर में रहते हुये बिजली के उपकरणों से दूर रहें । खिड़किया एवं दरवाजे बंद रखें । घर की पाईप लाईन अगर धातु की है तो नल आदि से दूर रहें। मौसम विभाग की चेतावनी को ध्‍यान में रखते हुये बाहर निकलने का निर्णय लें ।

 

क्‍या है आकाशीय बिजली –

- Install Android App -

सारिका ने बताया कि बिजली कड़कना प्राकृतिक है । बादलों के अंदर गर्म हवा की गति से धन आवेश उपर की ओर तथा नीचे ठंडी हवा होने से ऋण आवेश रहता है । जब इस आवेश की मात्रा अधिक हो जाती है तो इसके पृथ्‍वी पर गिरने की आशंका बढ़ जाती है । वह किसी सुचालक की तलाश करके पृथ्‍वी तक आना चाहती है और यह काम पेड़ या खंभे करते हैं । इसके नीचे खड़ा व्‍यक्ति पानी से तो कुछ देर बच सकता है लेकिन बिजली गिरने की दुघर्टना की सभावना बढ़ जाती हे ।

 

Don`t copy text!