ब्रेकिंग
Mousum News : मप्र में बदलेगा मौसम, नर्मदापुरम में तेज बारिश के साथ औले गिरने की संभावना Breking News: खरगोन में फुटवियर दुकान में लगी आग में परिवार के चार लोग झुलस गए MP News: CM मोहन यादव के बेटे और हरदा की बेटी आज पुष्कर में लेंगे सात फेरे। Ladli Behna Aawas Yojana: मध्य प्रदेश की महिलाओं को 01 मार्च को मिल सकता है, आवास योजना की पहली किस्... Khandwa News: कुशीनगर एक्सप्रेस के प्लेटफार्म पर आते ही मची भगदड़ आखिर जिम्मेदार कौन? बेदम हुए मरीज ... Crime News : महिला व्यवसायी से शादी का इंकार करना एंकर को पड़ा महंगा, हुआ किडनेप शादी की हां कहने पर ... katni News :सुंअर का शिकार करने वाले 10 लोगो को वनकर्मियों ने पकड़ा, ग्रामीण उन्हे छुड़ाकर अपने साथ ले... Accident News : तेज रफ्तार ट्रक ने महिला को मारी टक्कर मौके पर हुई मौत, भीड़ ने किया चक्काजाम Sirali news: सिराली में आदिवासी की मानव सुधार पट्टा से पिटाई, 40 हजार की घुस मामले में जयश कल 25 फरव... Harda : कट्टा लहराते धमकी देते गुंडों का वायरल हुआ था विडियो, एसपी ने लिया एक्शन, पुलिस ने 24 घंटो म...

Harda News : भ्रष्ट सरपंच, सचिव, परमानेंट ठेकेदार (कांग्रेस नेता) के सामने नतमस्तक प्रशासन, नही हुई कार्यवाही

मकड़ाई एक्सप्रेस हरदा : मध्यप्रदेश के हरदा जिले में जिला पंचायत सीईओ रोहित सिसोनिया के कार्यकाल में जमकर भ्रष्टाचार फलफूल रहा है। आए दिन समाचार पत्रों खबरों के माध्यम से भी कई बार शासन प्रशासन का ध्यान आकर्षित कराने के बाद भी कोई कार्यवाही नहीं करना । ग्राम पंचायत से लेकर जिला पंचायत के अधिकारियों की साठगांठ की ओर इशारा करता है।

हम बात करे ग्राम पंचायत हंडिया की तो इमरान खान नाम का ठेकेदार जो की कांग्रेस का नेता भी है। उसके द्वारा कभी मजदूर तो कभी ठेकेदार तो कभी जेसीबी मालिक बनकर ग्राम पंचायत में फर्जी बिल लगवाकर लाखो रुपए प्रतिमाह निकाले गए। भ्रष्ट सरपंच सचिव की मिलीभगत के संभव नहीं है। मकड़ाई एक्सप्रेस के द्वारा बीते दिनों ग्राम पंचायत मालेगांव और ग्राम पंचायत हंडिया में अनियमितता और भ्रष्टाचार की खबरों का प्रमुखता से प्रकाशन कर कुभकर्ण की नींद सोए हुए । जिला पंचायत और जनपद पंचायत के अधिकारियों का ध्यान भी आकर्षित कराया था। खबरों के बाद जिला पंचायत सीईओ के द्वारा ग्राम पंचायत मालेगांव के सचिव पर कार्यवाही कर दी थी।

लेकिन ग्राम पंचायत हंडिया में उससे भी ज्यादा भ्रष्टाचार में लिप्त सचिव सरपंच और ठेकेदार के ऊपर किसी भी प्रकार की कोई कार्यवाही आज तक नही की गई। जिसके कारण ठेकेदार सरपंच सचिव के हौसले बुलंद हैं। मालूम हो की ग्राम पंचायत के सरपंच सचिव इमरान ठेकेदार की मिलीभगत से शासन की राशि का आहरण कर सदुपयोग की जगह दुरुपयोग कर रहे है। और खुलेआम फर्जी बिल वाउचर लगाकर लाखो रुपए के बिल ठेकेदार के द्वारा लगाए गए। जिसकी जिला पंचायत के अधिकारियों ने न तो जांच की ओर नही भ्रष्ट सरपंच सचिव पर कोई कार्यवाही।

यह भी पढ़े-

- Install Android App -

उम्मीद है जिला कलेक्टर महोदय इस और ध्यान देगे। और निष्पक्ष जांच करवाएंगे।

Don`t copy text!