ब्रेकिंग
Aaj Ka Rashifal | राशिफल दिनांक 21 जून 2024 | जानिए आज क्या कहते है आपके भाग्य के सितारे सिवनी मालवा : मुख्यमंत्री की मंशा को पलीता लगा देगें ये नेता और अधिकारी, विधायक के गृह ग्राम बघवाड़ा... खण्डवा : खण्डवा हत्या के आरोपीयों को तत्काल गिरफ्तार कर न्यायालय पेश किया गया Harda News: हरदा जिला अस्पताल में महिला वार्ड में भर्ती लड़की हुई गायब, पुलिस ने 12 घटों के अंदर गुम... Harda News: '21 जून योग दिवस पर विशेष' सूर्य किरणो से प्रदेश के 14 जिलों में कर्क रेखा पर आज शून्‍य ... खंडवा : अंतरराष्ट्रीय योग दिवस पर विशेष, पानी में तैरते हुए योग, इस शख्स की कला देखकर हो जाएंगे हैरा... Harda News: ‘‘स्वयं एवं समाज के लिए योग’’ की थीम पर आयोजित होगा अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस कार्यक्रम Harda News: बिरसा मुंडा स्व-रोजगार योजना के तहत मिलेगा 50 लाख रुपये तक का ऋण Harda News: पल्स पोलियो अभियान के तहत 23 से 25 जून तक बच्चों को पिलाई जाएगी दवा Harda News: जिला स्तरीय रोजगार मेले में 143 युवाओं का हुआ प्राथमिक चयन

भोपाल/हरदा : पीएम की गारंटी देने वाली चुनावी सभा वाले खेत में कीलों की फसल चुनता किसान हैरान परेशान, पीडब्ल्यूडी विभाग ने रखी शर्त

भोपाल/हरदा : प्रधानमंत्री जी की  चुनावी  सभा को  हुए करीब एक महीना होने को है। अबगांव खुर्द का करोड़े परिवार प्रशासन और नेताओं के आश्वासन पर सिर धुनते हुये अपने खेत से स्पीकर की मदद से कीलों बिरंजी चुन रहे हैं।  करोड़े परिवार का कहना है कि आगामी फसल की तैयारी में ट्रैक्टर का टायर इन किलों से क्षतिग्रस्त होगा साथ ही दवाई देते समय पैर में कीलों चुभने व सेप्टिक होने की आशंका होगी। फिलहाल किसान मोदीजी की गारंटी और स्थानीय नेताओं व प्रशासन के आश्वासन को याद कर अपने खेत मे कीलों की फसल को चुन रहे हैं।   प्रशासन की रास्ता देखकर उकताए करोड़े परिवार चार दिन से इस काम मे बच्चों सहित जुटे हैं।

किसान कांग्रेस के केदार सिरोही जो सभा के पूर्व किसान के खेत को दुरुस्त करने की लड़ाई लड़ रहे थे। आज उन्होंने फिर से मोर्चा  संभाल लिया है।

  • किसान नेता पहुंचे पीड़ित किसान के खेत –

केदार सिरोही से खेत मे ही बात करते हुए अरविंद  करोड़े बताते हैं कि पीडब्ल्यूडी विभाग की सौंपे गए दायित्व के तहत उन्होंने अधिकारियों से  बात की तो वे कहते हैं कि यदि आप हाइवे से लगे रैंप (सभा के लिए रोड़ व खेत पर बना रास्ता) को हमें उठाने देंगे तो ही हम खेत को दुरुस्त कर देंगे । अन्यथा खेत आपको ही दुरुस्त करना होगा।  अभी खेत मे बियर की फूटी बोतल, गिट्टी के ढेर, डामर रोड, गायब वाटर कोर्स, नालियां आदि बहुत से काम हैं। बारिश के मौसम को देखते हुए करोड़े परिवार सिर धुन रहा है कि आखिर उसके खेत का क्या होगा।

मालूम हो पटवारी ने पहले अपने दस्तखत के साथ करोड़े परिवार को एक सहमति पत्र दिया था। जो आचार संहिता में दिया गया था। इस पत्र के वायरल होने के बाद प्रशासन ने आननफानन किसान पर दवाब बनाकर उनके सहमति के वीडियो जारी करवाये थे। 

  • नया सहमति पत्र बनाया –

हरदाः पीएम मोदी के दौरे के पूर्व सभास्थल के मालिक कृषकों ने की शिकायत ! – किसान के साथ अन्याय हुआ तो करेंगे आंदोलन – केदार सिरोही !

- Install Android App -

किसान करोड़े परिवार ने  मकड़ाई एक्सप्रेस को रूबरू मुलाकात में बताया कि मोदी जी की सभा के पहले टीआई पटवारी तहसीलदार आदि घर आये थे। पटवारी ने एक नया सहमति पत्र उन्हें देकर उस पर दस्तखत लिए थे। और कहा कि पुराना सहमति पत्र फाड़ देना।

तत्समय मीडिया में आये एक  वायरल वीडियो जिसमे सभा के पहले जिला प्रशासन के आला अधिकारी ने किसानों को बुलाकर उनकी समस्या सुनी थी उसमें एक महिला राजस्व अधिकारी को किसानों को आश्वस्त करते हुए पटवारी से सहमति  लेने व पटवारी के  साइन कर देने की बात स्पष्ठ सुनी गई है।

बहरहाल, मोदीजी की गारंटी पर भरोसा कर, प्रशासन व सियासत के दबाव में अपना खेत सभास्थल के लिए देने वाले किसान की हालत देखने वाला कोई नहीं है। भला हो किसान नेता केदार सिरोही का जो आज किसान के खेत पहुंचकर उसके हाल जाने और फेसबुक पर उसकी समस्या का वीडियो अपलोड किया।

Don`t copy text!