ब्रेकिंग
MP BIG News : कठुआ में हुए आतंकी हमलें में छिंदवाड़ा का कबीर हुआ शहीद पैथोलॉजी लैब फर्जी रिपोर्ट कलेक्टर को मिली शिकायत, जांच करने पहुंची टीम, विजय पैथोलॉजी को किया सील देवास: कांटाफोड पुलिस को मिली बड़ी सफलता, चोरी तथा ट्रक कटिंग करने वाले दो चोर धराए! खातेगांव: जल है तो कल है इसे बचाने के लिए हमें जल संरचनाओं को पुर्नजीवित करने के प्रयास करना होंगे- ... Breking News : बाइक सवार लूटेरों ने दिन दहाड़े पिस्टल दिखाकर व्यापारी से की 27 लाख की लूट कांग्रेस नेता सुरेंद्र जैन के बेटे संकल्प को कार दुर्घटना में बनाया आरोपी ! एफआईआर दर्ज ! हंडिया : पीए श्री स्कूल हंडिया के प्रधान पाठक जीआर चौरसिया द्वारा शिक्षकों को एक दिवसीय प्रशिक्षण दि... नर्मदा पुरम : नर्मदापुरम जिले के नगरों/ग्रामों में देखी गई विशेष खगोलीय घटना, साया ने छोड़ा,काया का ... Big News Mp: खंडवा जिले में 6 बदमाशो को जिला बदर करने के आदेश जारी! हरदा : जनशिक्षा केन्द्र महात्मा गांधी हरदा की मासिक समीक्षा बैठक सम्पन्न हुई

MP News : परीक्षार्थी को परीक्षा में जाने के लिए प्रधान आरक्षक ने ली रिश्वत, एक घंटे थाने में भी बिठाया

पुलिस का रिश्वत लेते विडियो वायरल होने के बाद अब होगी कार्यवाही

मकड़ाई एक्सप्रेस 24 दमोह । पुलिस और रिश्वत का रिश्ता बहुत पुराना हैं अक्सर पुलिस पर प्रकरण के दौरान रिश्वत लेने की बाते होती रहती है। ऐसा ही एक विडियों वायरल हो रहा था जिसमें पथरिया थाने में पदस्थ एक प्रधान आरक्षक  चौबे  का पुलिस थाने में रिश्वत लेते नजर आ रहा है। जानकारी के अनुसार मामूली सा विवाद में पथरिया के वार्ड क्रमांक तीन के एक 17 वर्ष के नाबालिग का पुलिस थाना पथरिया पहुंचा । थाने में मौजूद प्रधान आरक्षक  चौबे  ने दोनों पक्षों पर एनसीआर 155 के तहत मामला दर्ज कर लिया।

परिक्षार्थी को तीन घंटे तक थाने में बैठाए रखा

इस विवाद में विजय राठौर और कमलेश राठौर शामिल थे। वही विजय राठौर का एक बजे से पेपर था जिसे पुलिस ने करीब एक घंटे थाने में बैठने के बाद छोड़ दिया। दूसरे कमलेश राठौर को करीब तीन घंटे तक बैठाए रखा। कमलेश को छुड़वाने के लिए परिजनों ने प्रधान आरक्षक को राजेश  चौबे  को 3000 की रिश्वत दी। इसके बाद भी उसको नही छोड़ा । इस मामले में रिश्वत लेते हुए प्रधान आरक्षक का वीडियो वायरल हो गया।

फरियादी को थाने बुलाकर बनवाया विडियो की रिश्वत नही ली

- Install Android App -

इसके बाद फिर कमलेश के परिजनों को राजेश   चौबे  ने थाने बुलवाया और दबाब डालकर विडियो बनवाया कि उनसे प्रधानआरक्षक ने कोई रिश्वत नही ली है। इसके बाद कमलेश को छोड़ दिया। जबकि उसका रिश्वत लेते हुए वीडियो इंटरनेट पर वायरल हो चुका। इसके बाद पुलिस विभाग की किरकिरी होने पर । पथरिया एसडीओपी रघु केसरी द्वारा उक्त पूरे मामले में जांच की जा रही है। इस मामले में कमलेश के स्वजनों ने बताया कि उनसे प्रधान आरक्षक ने 5000 की मांग की थी जिसके हमने 3000 रुपये दिए थे।

Don`t copy text!