ब्रेकिंग
टिमरनी: पंचायत सचिव संगठन अध्यक्ष बने रामशंकर चौहान, पंचायत भवनों पर शासन की जनकल्याणकारी योजनाओं की जानकारी अंकित कराएं कलेक्टर श्री सिंह ने बैठक में दि... मकड़ाई एक्सप्रेस की खबर का हुआ असर,सरपंच सचिव ने शासकीय राशि का किया दुरुपयोग, भ्रष्टाचार के मामले ज... हरदा ब्लास्ट पीड़ितों को न्याय दो ! 23 फ़रवरी को घंटाघर चौक शांतिपूर्वक प्रदर्शन करेगा सर्वसमाज ब्र... मोदी सपोर्ट सेवा समिति हरदा कार्यकारिणी का हुआ गठन  Timrani sirali MLA: विधायक अभिजीत शाह की शासकीय विभागों में की जा रही उपेक्षा, ब्लाक कांग्रेस कमेटी ... Ladli bahna yojana:मुख्यमंत्री मोहन यादव बोले लाडली बहनों के खाते में 1 मार्च को आ जायेगा पैसा,कोई भ... Sirali harda: सिराली के इस भूमाफिया पर प्रशासन कब करेगा कार्यवाही? प्रथम दृष्टया रजिस्ट्री में हुई ध... Bhopal: आजाद अध्यापक शिक्षक संघ पदाधिकारियों की प्रांतीय बैठक 25 फरवरी को Harda News : 70 लाख गरीब आदिवासी के डकारने वाले मामले के तार मुख्य सरगना डिप्टी रेंजर सिंह से जुड़े...

मोबाईल चलाने पर पिता ने डांटा : बालक ने खाया जहरीला पदार्थ हुई मौत, जानिए बच्चो को मोबाइल की लत से कैसे बचाए ।

मोबाईल जितना सुविधाजनक है, उतना ही वह हमारे बच्चो के लिए जानलेवा बनता जा रहा हैं। माता पिता अपने बच्चो को टाईम नही देते है और उनके हाथ में मोबाईल पकड़ा देते ताकि उनका बच्चा डिस्टर्ब न करे और बच्चो को मोबाईल की लत लग जाती हैं। अब ऐसे में उनसे मोबाईल छुड़ाया जाए तो वह आत्मघाती कारनामा कर बैठते है|

मकड़ाई एक्सप्रेस 24 इंदौर। हाल ही में शहर में दो दुखद घटनाएं सामने आई हैं, जिनमें पहली घटना में एक बच्चे ने मोबाइल चलाने से रोक-टोक करने पर फांसी लगा ली थी। उसने जहर खाकर जान दे दी। 12 दिन पहले भी मोबाइल के कारण एक और बच्चा ने फांसी लगाकर खुदकुशी कर ली थी। पुलिस इस मामले की जांच कर रही है। परिवार मजदूर वर्ग का है। एडिशनल डीसीपी जोन.4, अभिनय विश्वकर्मा के मुताबिक, इस घटना की घटना धनश्री नगर में हुई है।

मोहित ने जहरीला पदार्थ खाया

15 वर्षीय मोहित, पुत्र मांगीलाल मोरे, की मौत सोमवार देर रात हुई। जीजा हेमेंद्र ने पुलिस को बताया कि मोहित ने सातवीं तक पढ़ाई की है और उसके पिताजी मजदूरी करते हैं। मोहित अपने खाली समय में मोबाइल चलाता रहता था। उसके पिताजी ने उसकी इस आदत को लेकर उससे डांटा किया था। गुस्से में, 15 दिसंबर को मोहित ने जहरीला पदार्थ खा लिया। उसे गंभीर अवस्था में अस्पताल में भर्ती कराया गया था। बीच में स्वास्थ्य में सुधार हुआ था, लेकिन सोमवार को अचानक स्थिति बिगड़ी और मोहित की मौत हो गई।

अपने बच्चो को मोबाइल से कैसे बचाए

बच्चे वही करते है जो अपने आस पास परिवार मे देखते है। इसलिए बच्चो के सामने मोबाईल पर लगातार कोई मनोरंजन पोस्ट न देखें उसमे सिर्फ पढ़ाई और काम की बातें देखें और सुने वह भी जरुरी और कम समय के लिए। अगर इस समस्या पर ध्यान नही दिया जाता है तो बच्चो को मोबाइल की लत लग गई तो इसको छुड़ाना बहुत कठिन हो जायेगा। बच्चो से मोबाईल छुड़ाना या देखने से रोकना और डांटना उनके लिए जानलेवा हो सकता है उक्त दोनो घटनाएं इंदौर शहर की है इनसे हम सबको सीखना जरुरी है। बच्चो को समय दीजिए मोबाईल से अच्छा उन्हे कहानी की किताबे दीजिए कोई इनडोर गेम खेलने की आदत डाले खुद उनके साथ खेलें। इसके साथ आप पेटिंग व गणित की मैजिक गेम व सेरेमिक, पीओपी मूर्ति, पेंसिल स्केच, आर्ट एंड क्राफ्ट आदि कुछ रोचक आर्ट सीखने के लिए प्र्रेरित करे। आप खुद उनके साथ करंेंगे तो बच्चो को अच्छा लगता है। इसके साथ आप शाम के समय उनके साथ पार्क में घूमें ,बैडमिंटन जैसे खेल खेले जिससे उनकी रुची बढ़ती जायेगी। इससे धीरे धीरे बच्चे मेहनत भी करेगे और फिट भी रहेगे और मोबाईल से दूर हो जायेगे।अपने बच्चो के सुरक्षित जीवन से बढ़कर हमारे लिए कुछ भी नही है। उन्हे समय दे और मोबाईल सीमित मात्रा में वाईफाई देवे अनलिमिट इंटरनेट न दीजिए।

 

यह भी पढ़े-

- Install Android App -

Don`t copy text!