ब्रेकिंग
खंडवा: खानापूर्ति कब तक चलेगी शिक्षा विभाग: गणेश भावसार गोवंश का पूजन कर के गौवंश रक्षा का संकल्प लिया Aaj ka rashifal: आज दिनांक 15/07/2024 का राशिफल,जानिए आज क्या कहते है आपके भाग्य के सितारे हरदा: प्रधानमंत्री कॉलेज ऑफ एक्सीलेंस का शुभारंभ कार्यक्रम संपन्न, हरदा विधायक दोगने पूर्व मंत्री प... हरदा: बलाही समाज की बेटियों को आत्मनिर्भर बनाने के लिए 18 कन्याओं को निशुल्क सिलाई मशीन वितरण की गई, श्री गणेश भावसार पालक महासंघ मध्यप्रदेश (रजि.) के खंडवा जिला अध्यक्ष नियुक्त हंडिया : आधा घंटा हुई झमाझम बारिश,मौसम हुआ सुहाना, Harda:एक पौधा मां के नाम" अभियान के तहत सर्किट हाउस परिसर में हुआ पौधारोपण, कलेक्टर श्री सिंह और अन्... Harda Big news: सोने चांदी के आभूषण चोरी करने वाले 03 आरोपी गिरफ्तार, 1 लाख 65 हजार के सोने चांदी के... सरकार की शिक्षा विभाग में लचर व्यवस्था आई सामने,जिला अधिकारी का पुतला दहन करेंगे अभाविप , दिया पुलिस...

रीवा:बोरवेल के गड्डे में गिरा 6 साल का बच्चा, रेस्क्यू जारी, 8 जेसीबी से खुदाई करवा रहा जिला प्रशासन

रीवा : खुला बोरवेल छोड़ने वालो पर सरकार ने सख्ती से आदेश जारी कर कार्यवाही की बात कही थी। लेकिन उसके बाद भी कई लोग बोरवेल के गड्डे को खुला छोड़ देते है उनकी एक छोटी सी गलती  मासूम बच्चो की जान ले लेती है। पूर्व में कई घटनाए मध्यप्रदेश में हो चुकी । सीएम मोहन यादव ने अभी कुछ माह पूर्व ही सभी जिला कलेक्टर और विभागों को आदेश जारी किए थे। उसके बाद भी कई बोरवेल के गड्डे अभी भी खुले पड़े हुए है। जिसके कारण कई हादसे हो रहे है। मध्यप्रदेश के रीवा में शुक्रवार को बोरवेल में एक 6 साल का आदिवासी बच्चा गिर गया।

उसको बाहर निकालने का काम शुक्रवार से आज तक चल रहा है। । बच्चा शुक्रवार को दोपहर करीब साढ़े तीन बजे 160 फीट गहरे बोरवेल में गिरा था। बच्चे की मां शीला का रो-रोकर बुरा हाल है। बच्चे की नानी निर्मला का कहना है कि हमें भगवान पर भरोसा है। बच्चा जल्दी बाहर आ जाएगा।

https://x.com/ANI_MP_CG_RJ/status/1779002192202022987?t=WKwdeDeRn_9NdCsljkc7jg&s=08

मामला रीवा जिला मुख्यालय से करीब 90 किलोमीटर दूर जनेह थाना क्षेत्र के मनिका गांव का है। बच्चे का मयंक (6) पिता विजय आदिवासी है। वह खेत में बच्चों के साथ खेल रहा था। इसी दौरान खेत में ही खुले पड़े बोरवेल में गिर गया। रेस्क्यू टीम बोरवेल के पैरेलल 8 जेसीबी मशीन से खुदाई कर रही है। फिलहाल बच्चे का कोई मूवमेंट नहीं दिखाई दे रहा है। बताया जा रहा है कि उसके ऊपर मिट्टी आने से वह और गहराई में चला गया।

बच्चे की मां शीला आदिवासी अपनी मासूम बेटी को गोद में लेकर रातभर घटनास्थल पर बैठी रही।

- Install Android App -

Don`t copy text!