ब्रेकिंग
Harda: कलेक्टर श्री सिंह ने जिला जेल का किया आकस्मिक निरीक्षण , अव्यवस्थाओं को लेकर नाराजगी व्यक्त क... Harda sirali BIG news: कुख्यात ईनामी बदमाश इमरान उर्फ मौलाना को सिराली पुलिस ने किया गिरफ्तार! 5 वर्... देवास: किसान के खेत में बंधी गोवंश की हत्या, बोरी में भरकर ले जा रहे थे आरोपी, एक पकड़ाया अन्य भाग ग... Sirali news: कलेक्टर श्री सिंह ने तहसील कार्यालय सिराली का औचक निरीक्षण किया Harda: कलेक्टर श्री सिंह ने नहरों से सिंचाई कार्य का निरीक्षण किया, सिंचाई में बाधक बनने वाले हेडअप ... कन्नौद: नदी में डूबने से 17 वर्षीय युवक की मौत, मृतक कन्नौद के वार्ड क्रमांक 4 का निवासी नर्मदा नदी: रील के चक्कर में जान गवाई! नर्मदा नदी के पुल से कूदे दो युवक हुई मौत, इधर नर्मदा पुरम मे... गैस सिलेंडर सब्सिडी हुई जारी, ऐसे चेक करे अपना नाम लखपति दीदी योजना: केंद्र सरकार 3 करोड़ महिलाओं को बनाएगी लखपति, शुरू हुई योजना Harda: प्राइवेट बैंक के कर्ज से परेशान : आबकारी विभाग के बाबू ने लगाई फांसी! तीन बेटियों एक बेटे के ...

Bhopal News : लाटरी सिस्टम से सीएम राईज स्कूलों में मिलेगा प्रवेश

मकड़ाई एक्सप्रेस 24 भोपाल। मप्र स्कूल शिक्षा विभाग ने सीएम राइज स्कूलों में प्रवेश की गाइड लाइन जारी कर दी है। प्री प्रायमरी कक्षाओं से हायर सेंकंेडरी तक की कक्षाओं में वि़द्यार्थियों को प्रवेश दिया जायेगा। बताया जा रहा है कि इन स्कूलों में नर्सरी कक्षा संचालित नही होगी।
मप्र स्कूल विभाग द्वारा जारी गाइडलाइन के अनुसार 16 मार्च से प्रवेश प्रक्रिया प्रारंभ होगी। स्कूलों में लाटरी सिस्टम से विद्यार्थियों को प्रवेश दिया जायेगा।जिनका शिक्षा सत्र 1 अप्रेल से स्कूल खुलते ही प्रारंभ होगा। प्रदेश के सभी जिलों में सीएम राईज स्कूलों के भवन निर्माण की प्रक्रिया भी चल रही है। जिनका निर्माण अभी अधूरा है उनके लिए अलग से गाईडलाईन जारी की गई है।
आयुक्त उच्च शिक्षा विभाग की ओर से प्रदेश के सभी डीईओ को गाइड लाइन जारी हुई है। कक्षा 6 और 9 में स्कूलों को सीएम राइज स्कूल से अटैच किया गया है। कैंपस स्कूल के विद्यार्थियों के प्रवेश पूरे होने के बाद ही खाली स्थानों पर प्रवेश दिए जाएंगे।स्कूल प्राचार्य द्वारा खाली सीटों की जानकारी ली जायेगी। लाटरी सिस्टम की प्रक्रिया अपनाई जायेगी।

स्कूल में कार्यरत शैक्षणिक एवं गैर शैक्षणिक स्टाफ के बच्चों को उसी स्कूल में सीधे प्रवेश दिया जाएगा। स्कूल में कोई स्थान रिक्त है तो दूसरे विद्यालय के छात्र का प्रवेश दिया जाएगा। यदि स्कूल में बैठने का स्थान नहीं है तो फिर अधिक संख्या में छात्रों का प्रवेश नहीं मिलेगा।

- Install Android App -

Don`t copy text!