ब्रेकिंग
Harda News: बिजली मीटर से छेड़छाड़ करने पर हो सकती है 3 वर्ष तक की जेल Harda News: पशुपालक अपने पशुओं को तेज गर्मी व सीधी धूप से बचाएं Harda Big News: धारधार हथियार से घर में घुसकर युवक से मारपीट, दराते, चाकू से किया हमला ! विडियो आया ... Harda News: जल स्रोतों के संरक्षण के लिये सभी शहरों में 5 जून से शुरू होगा विशेष अभियान, नगरीय विकास... Harda News: ग्रामीण विकास विभाग की योजनाओं की समीक्षा बैठक 30 मई को Harda News: 30 दिवसीय मशरूम प्रशिक्षण हेतु आवेदन आमंत्रित Harda News: मतगणना स्थल पर पत्रकार अपने फोन, मीडिया कक्ष तक ही ले जा सकेंगे Harda News: लोकसभा निर्वाचन की मतगणना हेतु नियुक्त अधिकारी कर्मचारियों को दी ट्रेनिंग Mumbai News: भारत पहुंचा सबसे बड़ा कंटेनर जहाज, अदाणी के मुंद्रा पोर्ट्स पर डाला लंगर हरदा : गल्ला मंडी मॆं फल विक्रेताओं का अवेध कब्जा

हरदा : किसानो में आक्रोश 2700 रू गेहूं खरीदी का किया था वादा, मोदी मोहन वादे से मुकरे, मोदी की गारंटी निकली झूठी : भारतीय किसान संघ

हरदा : विधानसभा चुनाव के समय मोदी द्वारा देश के किसानों को 2700 रू क्विंटल गेहूं खरीदी के वादे से मोहन सरकार मुकर गई।
जारी प्रेस विज्ञप्ति में भारतीय किसान संघ राजनारायण गौर जिला प्रवक्ता ने सरकार पर आरोप लगाते हुए कहा की भाजपा सत्कार ने चुनाव के घोषणा पत्र में 2700 रू गेहूं खरीदी की बात कही थी। लेकिन 125 रू की लालीपाप देकर 70 प्रतिशत किसानों को निराश कर दिया गया।
श्री गौर ने कहा की बीते दिनों 2700 रुपए क्विंटल गेहूं खरीदी की मांग को लेकर भारतीय किसान संघ द्वारा मध्यप्रदेश के सभी जिलों में प्रदर्शन कर रैली निकाली गई एवं मुख्यमंत्री के नाम ज्ञापन सौंपे गए।

कृषि मंत्री का आश्वासन भी निकला झूठा-

भारतीय किसान संघ के द्वारा किए गए विरोध प्रदर्शन के बाद कृषि मंत्री द्वारा आश्वासन दिया गया था जो वादा किया वो निभाएंगे किंतु सरकार अपने वादे से मुकर गई और किसानों को अगर घोषित मूल्य नहीं देना था तो झूठी घोषणा क्यों की। एक तरफ प्राकृतिक आपदा असमय बारिशऔर ओलावृष्टि ने किसानों की फसलें बर्बाद कर दी। किसानों का उत्पादन आधा हो गया और दूसरी तरफ सरकार द्वारा किसानों को आर्थिक सहायता की बजाय उनके हक के राशि में से भी कटौती कर दी गई। सरकार किसान हितैषी होने का डिंडोरा पीटती है।इस विषम परिस्थिति में सरकार को किसानों का सहयोग करना था। किंतु ऐसा नहीं हुआ। सरकार की वादाखिलाफी से किसान संघ नाराज़ है ।

________________________________

यह भी पढ़े –

- Install Android App -

 

Don`t copy text!