ब्रेकिंग
MP Big News: घर के मुखिया ने जिगर के टुकड़े बेटा और बेटी के साथ पेड़ में फांसी लगाकर कर ली आत्महत्या... Harda News: कलेक्टर श्री आदित्य सिंह ने बैठक में दिये निर्देश: सभी विभागों की रंगाई पुताई हो, साफ सफ... Harda News: अत्याचार निवारण अधिनियम के तहत पीड़ितों को पात्रतानुसार राहत दिलाएं: कलेक्टर श्री सिंह ने... Harda News: अमानक कीट नाशक व खाद बीज विक्रय करने वाले संस्थानों के लायसेंस निलंबित व निरस्त करने की... Rajgarh News : आपसी विवाद में पति ने पत्नि पर किया फायर, पत्नि की हुई मौत Crime News : 21 वर्षीय स्टेज परफाॅर्मर से साथियों ने नशीला पदार्थ खिलाकर किया गैंगरेप Pradhan Mantri Awas Yojana: प्रधानमंत्री आवास योजना के अंतर्गत आवेदन प्रक्रिया हुई शुरू, ऐसे करें अप... इस दिन होगा लाडली बहना योजना का तीसरा चरण शुरू, राज्य की वंचित महिलाएं कर सकेंगी आवेदन फार्म जमा, दे... CM Kisan Kalyan Yojana: के अंतर्गत ऐसे करें आवेदन फार्म जमा, मिलेगा ₹6000 का लाभ, देखिए पूरी जानकारी Ladli Bahana Awas Yojana: मध्य प्रदेश सरकार लाडली बहना आवास योजना की पहली किस्त में देगी ₹30000, यहा...

Kheti Badi: गेहूं फसल पर कीट की मार, किसानों का हाल बेहाल, किसान हाथो में गेहूं की बालियां लेकर पहुंचे जनसुनवाई।

खंडवा : जिले के मेहनतकश किसानों को प्राकृतिक आपदा के साथ साथ कीट पतंगों का भी प्रकोप झेलनी पड़ रही है। मेहनत और लागत के हिसाब से उन्‍हें नहीं मिलता फसल का उचित मूल्य खेती उनके लिए अब घाटे का सौदा बनते जा रहा है। आज जनसुनवाई में जमाली कला के किसान अपनी समस्या लेकर पहुंचे थे किसानों ने बताया कि पहले सोयाबीन की फसल बर्बाद हो गई मुआवजा नहीं मिल पाया और अब गेहूं की फसल पर रोग लग गया है जिन अधिकारियों को जिम्मेदारी है देखने की लेकिन वह अधिकारी कागजों पर ही अपनी योजना दिखा देते हैं फसलों के बचाव के लिए उनके द्वारा कोई भी दिशा निर्देश नहीं दिए गए आज हमारे फैसले बर्बाद होने की कगार पर है, हमारे द्वारा बैंकों से लोन लेकर खेती किसानी की जा रही है हम गरीब किसान जो दो एकड़ तीन एकड़ में फसल बोते हैं।

यदि वह फसल भी बर्बाद हो गई तो हमारा परिवार चलाना मुश्किल हो जाएगा –

किसान ने बताया कि इस बार पिछले वर्ष की तुलना में काफी ज्यादा गेहूं की खेती हुई है। किसानों ने पूरे जोर-शोर से गेंहू की खेती की। पौधा भी बहुत अच्छा निकला, समय से खरपतवार और उर्वरक का प्रबंधन भी किया गया लेकिन कीट-व्याधि के अत्यधिक प्रकोप से फसल पूरी तरह से चौपट हो होती जा रही है। मौसम की मार भी फसल पर देखी जा रही है किसानों का कहना है कि अब तक सरसों के फसल में लाही कीट का प्रकोप होता था ।

लेकिन इस बार इसका प्रकोप गेहूं पर देखा जा रहा है।पौधों पर फफूंद के कारण गेहूं की बालियां सूखने का खतरा पैदा हो गया है।रोग के कारण गेहूं फसल की बालियां ऊपर से नीचे की ओर सूखने लगती हैं। इस वजह से दानों की ग्रोथ नहीं हो पाती और उत्पादन गिर जाता है।

खेतों का पटवारी सर्वे कर उचित मुआवजा दिया जाए –

- Install Android App -

आज जनसुनवाई में ग्राम जामली कला के कृषक ब्लॉक पंधाना के ग्राम रामपुरा में निवासी करते है यह हमारे ग्राम में खराब मौसम के कारण रवि सीजन में गेंहु कि सभी प्रजाति में पाला पडने के कारण गेरूआ नामक बिमारी का प्रकोप बढ गया जिससे गेंहु की फसल नष्ट हो गयी है

विगत वर्ष खरीब फसल में सोयाबीन की फसल भी पुरी तरह नष्ट हो गयी था, अब गेंहु की फसल खराब होने से जीविका चलाना असंभव सा लग रहा है किसानो की पुरी आस अब संशासन व प्रशासन पर निर्भर है हम शासन से यह मांग करते है कि पटवारी को खेतो में भेजा जाए व खराब फसलो का सर्वे करवा कर उचित मुआवजा राशि व बीमा कंपनी से बीमा दिलवाने का आग्रह करते है। जिससे की किसानो को राहत मिले व जीविका चलाने मे सबल प्राप्त हो

Don`t copy text!