ब्रेकिंग
हरदा हंडिया: नर्मदा नदी में गंगा दशमी स्नान करने गए दो युवक गहरे पानी में डूबे, एक की लाश पास में ही... हंडिया : मानव श्रृंखला बनाकर स्वच्छता की शपथ दिलाई हंडिया : हर हर गंगे व ‌नर्मदे हर के उद्घोष के साथ हजारों श्रद्धालुओं ने लगाई मां नर्मदा में आस्था की... Harda News: पिछले 24 घंटों में जिले में 12.9 मि.मी. औसत वर्षा हुई Harda News: रेडक्रास समिति के स्थायी सदस्यों की सूची प्रकाशित दावे आपत्ति 28 जून तक प्रस्तुत करें, 5... Harda News: मानव श्रृंखला बनाकर और शपथ दिलाकर की जल संरक्षण की अपील Dewas News : टेंकर को पलटता देख क्लीनर जान बचाने ट्रैक्टर से कूदा मगर गर्म डामर काल बनकर उस पर गिरा ... Police News : आधी रात को सड़क पर उतरी पुलिस 667 बदमाशों की करी धड़ पकड़ Gaon ki Beti Yojana 2024 : गांव की बेटियों की हुई मौज, बेटियों को अब मिलेंगे पुरे 5000 रूपए, ऐसे करे... Khategaon News: नर्मदा नदी के इस घाट पर टूरिस्‍ट ट्रेवलर बस से पहुंची खनिज विभाग की टीम 28 ट्रैक्टर ...

“पानी बचाओ पृथ्वी बचाओ” आखिर हम कब समझेंगे जल ही जीवन है – प्रो. अर्पित गुर्जर

भोपाल / हरदा : हमने शुरू से ही सुना है पड़ा है कि जल ही जीवन है अमृत है और जल से ही कल है हमें पानी का महत्व समझाना पड़ेगा पानी हमारे जीवन में बहुत ही महत्व रखता है आने वाले समय में पानी की किल्लत सबसे बड़ी परेशानी रहेगी हमारे देश एवं दुनिया के लिए रहेगी अभी भी समय के साथ लोग पानी का व्यर्थ हुआ है और हो रहा है “आखिर कब समझेंगे हम सब लोग की जल ही जीवन है ” उक्त बातें अखिल भारतीय वीर युवा गुर्जर महासभा के सदस्य प्रो. अर्पित गुर्जर जी ने कहीं गुर्जर जी एक समाज सेवा के रूप में भी काम करते हैं उन्होंने पूर्व में जेडीयू पार्टी के तत्वदान में भोपाल जिला उपाध्यक्ष एवं प्रदेश सचिव के जिम्मेदारी में भी काम किया है लोगों को अनेक प्रकार के माध्यम से पानी का महत्व बताया है बहुत सारे लेख ही लिखें समाज में लोग पानी को बचाने के लिए उत्सुक रहे ” पानी बचाओ तभी हमारा देश हमारे पृथ्वी बचेगी ” हम सब अपने आसपास ही देखते रहते हैं कि लोग अपने का कितना अपव्यय करते हैं बर्बाद करते हैं पानी का जितना उपयोग हो सके हमें उतना ही उपयोग करना चाहिए पानी की बर्बादी में एक बहुत महंगी पड़ेगी ” जब कुआं सुख जाएगा तब हमें पानी का महत्व पता चलेगा” और यह बात सच है कि जब हुए तालाब नहर में पानी ही नहीं बचेगा तब पानी का असली बहुमूल्य पता चल जाएगा कितनी है किसी को पानी मिलता ही नहीं कहीं पानी के लिए कई लोगों को कितना दूर जाना पड़ता है हमारे देश में आज भी कहीं ऐसे गांव है जिन्हें अपने की किल्लत से दिक्कत हो रही है अगर पानी की बर्बादी को रोकने के लिए कुछ ठोस कदम उठाना चाहिए हमें आपसी समझदारी से पानी संरक्षण के लिए कुछ करना पड़ेगा और साथ ही पानी कैसे बचाया उसे पर विचार विमर्श पर पानी को जितना बचाएंगे करेंगे उतना हमारे आने वाली पीढ़ी के लिए अच्छा रहेगा ” पानी बचाने का करो जतन क्योंकि पानी है बहुमूल्य रत्न ” जिस तरह से हमारे आभूषण रत्न पैसे कीमती है वैसे ही हमारे लिए बहुमूल्य रत्न है पानी जितना हो सके उतना ही पानी का उपयोग करें पानी की बर्बादी ना करें पानी की इतनी किल्लत हो जाती है कि जहां पानी चाहिए रहता है नहीं मिलता नहीं हमारे किसान भाई पानी के लिए परेशान होते हैं जब पानी ही नहीं बचेगा तो किसान अपनी फसल कैसे बचाएं फसल कैसे होगी यहां तक कि हमें पानी के साथ-साथ खाने के लिए भी मोहताज होना पड़ेगा आज भी कहीं-कहीं किसान भाइयों को समय पर पानी नहीं मिल पाता है जिन्हें बहुत नुकसान होता है हर फसल के लिए सबसे पहले पानी की ही जरूरत पड़ती है हमारे देश में आधे से ज्यादा जमीन सूखी पड़ी है इसमें कोई फसल नहीं होती क्योंकि वहां पानी की कमी है पानी की समस्या है जिस वजह से फसल नहीं होती इसलिए आने वाले कल के लिए सर्वप्रथम पानी का संरक्षण कर पानी को बचाए यह नारा सही रहेगा “जन-जन ने ठाना है पानी को बचाना है ” हम सब छोटे बड़े वर्ग के लोगों को पानी के बचाव के लिए आगे आना होगा और आगे रहकर पानी को बचाना पड़ेगा पानी के बचाव कार्य के लिए लोगों को जागरूक करना पड़ेगा हम देखते आ रहे हैं कि लोग पानी की बर्बादी दिल खोलकर करते हैं पहले का समय कुछ और था पर अब पानी को बचाना ही पड़ेगा आने वाला हमारा कल तभी सुनहरा कहलायेगा जब पानी बचा पाएंगे और सबसे पहले हमें हमारे घर पड़ोसी समिति से ही पानी बचाने का दौर शुरू करना पड़ेगा जितना उपयोग करना है पानी का उतना उपयोग कर पानी को बचाए क्योंकि पानी की जरूरत हम सबको लगती है चाहे वह जीव जंतु हो प्राणी हो दुनिया भर में हर किसी को पानी की जरूरत है पानी न होने का कारण पूरी दुनिया भर में दिक्कत करेगा इसलिए हम सबको मिलकर पानी बचाने में अपना जतन लगाना पड़ेगा।
” आज जल बचाइए कल के लिए भारत कौशल बनाए ” यह बात कहीं ना कहीं सत्य है कि अगर हमने आज जल बचा लिया तो कल के लिए हमारा भारत कुशल बन जाएगा थोड़ा-थोड़ा पानी बचाना हमें शुरू करना पड़ेगा ताकि पानी की किल्लत दुनिया भर में झेल ना पड़े इसलिए हम सबको मिलकर पानी बचाने के लिए प्रयास करना चाहिए और हम सब मिलकर संकल्प ले की पानी को बचाने का प्रयास करेंगे और पानी सुरक्षित कर भारत को कुशल बनाएंगे।

______________

यह भी पढ़े –

अपडेट खबरों के लिए हमारे whatsapp चैनल को फ़ॉलो करें –

- Install Android App -

Don`t copy text!