ब्रेकिंग
Harda Big News: धारदार हथियार से घर में घुसकर युवक से मारपीट, दराते, चाकू से किया हमला ! विडियो आया ... Harda News: जल स्रोतों के संरक्षण के लिये सभी शहरों में 5 जून से शुरू होगा विशेष अभियान, नगरीय विकास... Harda News: ग्रामीण विकास विभाग की योजनाओं की समीक्षा बैठक 30 मई को Harda News: 30 दिवसीय मशरूम प्रशिक्षण हेतु आवेदन आमंत्रित Harda News: मतगणना स्थल पर पत्रकार अपने फोन, मीडिया कक्ष तक ही ले जा सकेंगे Harda News: लोकसभा निर्वाचन की मतगणना हेतु नियुक्त अधिकारी कर्मचारियों को दी ट्रेनिंग Mumbai News: भारत पहुंचा सबसे बड़ा कंटेनर जहाज, अदाणी के मुंद्रा पोर्ट्स पर डाला लंगर हरदा : गल्ला मंडी मॆं फल विक्रेताओं का अवेध कब्जा Indore News: वरिष्ठजनों का उत्साहवर्द्धन करने हेतु विशेष कैरम प्रतियोगिता का आयोजन रहटगांव : सांप के काटने से जिस महिला की हुई थी मृत्यु उस जहरीले सांप को सर्प मित्र ने ढूंढ निकाला, त...

Harda: गरीब सब्जी बेचने वाले के पुत्र ने पुलिस अधीक्षक से लगाई गुहार,अधिवक्ता पुत्र ने गाड़ी का कर दिया एक्सीडेंट,अब अधिवक्ता उल्टे दे रहा धमकी

हरदा। हरदा के एक ग़रीब युवक जिसके पिता सब्जी बेचकर अपने घर परिवार का भरण पोषण करते है । बेटे ने पिता के साथ सब्जी कि दुकान पर उनकी मदद कर एक एक रुपया इकठ्ठा कर जेसे तेसे एक पुरानी चार पहिया गाड़ी खरीदी। ताकि किराए से चला कर अपने परिवार कि मदद कर सके। लेकिन कहते है कई बार दया ही दुख का कारण बन जाती है।

ऐसा ही एक मामला हरदा जिले में सामने आया जहा हरदा निवासी नीरज साहु ने एक पुरानी गाड़ी खरीदी जिसकी अभी किस्त चल रही है। नीरज साहु ने मकड़ाई एक्सप्रेस को बताया की मेने एक चार पहिया वाहन खरीदा था । 19.01.2024 की रात्रि लगभग 2.00 बजे मेरा दोस्त समीर शेख पिता शेख मोईन निवासी शिवम वाटिका हरदा के द्वारा मुझे लगभग 3 बार मेरे नम्बर पर फोन लगाया मैं सो रहा था इसलिए फोन नहीं उठाया तो समीर शेख मेरे घर पर आया और मुझे उठाकर कहा कि मेरे पापा ने बोला है। कि नीरज से गाडी ले आओं बुआ को छोडने खातेगाँव छोडकर आना है। दोस्ती के नाते मैने उपरोक्त वाहन की चाबी समीर शेख को दे दी। उसके बाद उसी रात्रि को सुबह पांच बजे रेहटी थाने के कोलार के पास एक नहर में समीर ने मेरे वाहन को तेज गति से चलाते हुए उसका एक्सीडेंट कर दिया । मैंने दूसरे दिन कोलार जाकर क्रेन ट्रेक्टर की मदद से गाड़ी को हरदा लेकर आया।
नीरज साहु का कहना है में रेहटी थाने में शिकायत करने गया था। लेकिन अधिवक्ता शेख मोइन ने मेरी रिपोर्ट लिखने नही दी। मुझे कहा की में गाड़ी सुधरवा कर दे दूंगा। लेकिन नही दी।
वही नीरज साहु ने अधिवक्ता शेख मोइन पर आरोप लगाया कि मुझे झूठ बोलकर गुमराह करते हुए अधिवक्ता ने मेरे एक ड्राइवर दोस्त से उक्त वाहन का टिमरनी थाने में दुर्घटना होना बताकर आवेदन दिलवा दिया। ओर अब उल्टे मुझे धमका रहे कि तू मेरे से जबरन पैसा मांग रहा।
शारीरिक मानसिक रूप से प्रताड़ित होने के बाद नीरज ने जिला पुलिस अधीक्षक को एक आवेदन ओर एक शपथ पत्र दिया है।
जिसमे अधिवक्ता शेख मोइन के कहने पर टिमरनी थाने में झूठा आवेदन देने का उल्लेख किया गया।

अधिवक्ता बोले आरोप झूठे है।

इधर जब मकड़ाई एक्सप्रेस ने  आरोप ओर शिकायत के संबंध में अधिवक्ता शेख मोईन को काल कर उनका पक्ष जानना चाहा तो उन्होंने कहा कि नीरज साहु झूठ बोल रहा उसकी गाड़ी का एक्सीडेंट टिमरनी के पास हुआ। उसके ड्राइवर ने एक आवेदन टिमरनी पुलिस को दिया है।
उन्होंने कहा कि वो झूठ बोलकर जबरन पैसे मांग रहा है। अधिवक्ता ने ये भी कहा कि हमने अधिवक्ता संघ के द्वारा भी पुलिस अधीक्षक को  शिकायत कि है। 

शेख मोईन अधिवक्ता हरदा

 

क्या है शिकायत आवेदन पत्र 

प्रति,
श्रीमान थाना प्रभारी महोदय,

पुलिस थाना सिविल लाईन हरदा जिला हरदा म.प्र.

विषय :- मेरे वाहन को क्षतिग्रस्त कर राशि न देने बावत् ।

महोदय जी,
निवेदन है कि मैं आवेदक नीरज साहू पिता श्री रविशंकर साहू, सुदामा नगर इन्दौर रोड़ हरदा जिला हरदा म.प्र. का निवासी हूँ। मेरे द्वारा इन्द्रजीत सिंह निवासी देसगाँव जिला खण्डवा वालों से वाहन SWIFT DZIRE VDI BSIV रजिस्ट्रेशन क्र. MP09CM5865 इन्जिन नम्बर D13A2128125 एवं चेचीस क्रमांक MA3FJEB1S00310112 को दिनांक 14.12.2023 को स्टाम्प पेपर पर क्रय किया था फायनेन्स की किस्ते बकाया होने के कारण अभी तक आर.टी.ओ. में नाम ट्रासफर नहीं हुआ है उक्त वाहन मेरे आधिपत्य में है जिसका उपयोग उपभोग मैं करता हूँ ।

दिनांक 19.01.2024 की रात्रि लगभग 2.00 बजे मेरा दोस्त समीर शेख पिता शेख मोईन निवासी शिवम वाटिका हरदा के द्वारा मुझे लगभग 3 बार मेरे नम्बर पर फोन लगाया मैं सो रहा था इसलिए फोन नहीं उठाया तो समीर शेख मेरे घर पर आया और मुझे उठाकर कहा कि मेरे पापा ने बोले है कि नीरज से गाडी ले आओं बुआ को छोडने खातेगाँव छोडकर आना है दोस्ती के नाते मैने उपरोक्त वाहन की चाबी समीर शेख को दे दी उसके द्वारा एक हजार रूपये का डीजल उक्त वाहन में डलवाया गया जिसकी पर्ची भी मुझे वाट्सएप पर भेजी थी। समीर के द्वारा मुझसे झूठ वोल कर गाडी ले जाई गई है।

- Install Android App -

उसी दिनांक 19.01.2024 सुबह मेरे भाई के पास समीर का फोन आया है और उसने मेरे भाई को बताया कि कोलार रोड़ रेहटी के पास किसी नहर में गाडी पाँच पल्टी खाकर गिर गई है जो पुरी तरह क्षतिग्रस्त हो गई है। जिसमें
समीर शेख को भी चोट आई। उसके बाद उक्त वाहन को मेरे द्वारा बताये हुए पते पर पहुंच कर क्रेन की मदद से नहर में से बाहर निकलवाया गया और ट्राली में लोड करवाकर हरदा लेकर आया। घटना की रिपोर्ट करने से समीर के पिता शेख मोईन के द्वारा मुझसे मना कर दिया गया था और कहा गया था कि जो भी वाहन में खर्च आयेगा वह मैं दे दूंगा आप रिपोर्ट मत करों । उनकी बात मानते हुए मैने रिपोर्ट नहीं करी और मेरे द्वारा उक्त वाहन को सुधरवाने का स्टीमेन्ट तैयार करवाया गया तो उसमें लगभग 2,36,000/- एवं उक्त वाहन को हरदा लाने का खर्च 5000/- रूपये, नहर से निकलवाने का खर्च क्रेन का 4000/- रूपये एवं हरदा में क्रेन से गाडी नीचे उतरवाने का खर्च 1500/- रूपये कुल 246,500/- रूपये की समीर शेख के पिता शेख मोईन से मांग की तो उनके द्वारा मुझसे गाली गलोच कर अभद्रता पूर्ण व्यवहार किया गया और मुझसे कहा गया कि मैं एक वकील हूँ और तुझे जो करना है करले मैं ना तो पुलिस से और ना ही न्यायालय से डरता हूँ और कहने लगे कि यदि दूसरी बार मेरे पास पैसे मांगने आया तो मैं तुझे किसी भी केस में फसवा दूंगा मेरी थाने में अच्छी बात है ।

अतः श्रीमान से निवेदन है कि समीर शेख एवं उसे पिता शेख मोईन के विरूद्ध उचित कानूनी कार्यवाही कर मेरे उपरोक्त वर्णित रूपये दिलाने की कृपा करें। यदि मेरे साथ कुछ घटना दुर्घटना होती है तो उसकी सम्पूर्ण जबावदारी समीर शेख एवं उसके पिता शेख मोईन की होगी ।

दिनांक :-

15.02.2024

आवेदक
नीरज साहु

प्रतिलिपि :- 1.

श्रीमान पुलिस महानिदेशक महोदय, भोपाल ।

श्रीमान पुलिस अधीक्षक महोदय हरदा

Don`t copy text!