ब्रेकिंग
अब सरकार महिलाओं को देगी ₹1000 महीना, शुरू हुई नई योजना, देखे पूरी जानकारी Krashi Sakhi Yojana 2024: 3 करोड़ महिलाएं बनेंगी लखपति, 12 राज्यों में शुरू हुई योजना मुख्यमंत्री कन्या उत्थान योजना 2024: बिहार सरकार देगी राज्य की बेटियों को ₹50000, यहां जानें आवेदन प... Mukhyamantri Bahan Beti Swavalamban Protsahan Yojana: सरकार को नई योजना के तहत महिलाओं को मिलेंगे ₹1... PM Awas Yojana Latest Update: पीएम आवास योजना को लेकर केंद्र ने जारी किया बड़ा अपडेट, देखे पूरी जानक... Mp Big News: सिवनी के कलेक्टर और एसपी को मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री डॉ मोहन यादव ने हटाया । हरदा : हरदा जिले के विभिन्न पोलियो बूथ पर 5 वर्ष तक की आयु के बच्चों को पोलियो की दवा पिलाई गई Harda News: जिले के अन्नदाताओ को चोर समझ रहा है जिला प्रशासन : मोहन बिश्नोई ग्रामीण परंपरागत खेलों को बढ़ावा देती ग्रामीण संस्कृति,बचपन के देशी खेल को बढ़ावा दे रहे पंचायत के ग... देवास जिले में 23 जून रविवार को जन्म से 5 वर्ष तक के बच्चो को पिलाई जाएगी पोलियों की दवा

Sivanimalwa: भीलटदेव मे मेले के बाद नही हुई सफाई गंदगी खाने से गोवंश की हो रही मौत ,प्रशासन का नहीं है ध्यान

के के यदुवंशी पत्रकार,

सिवनी मालवा।क्षेत्र का सबसे बड़ा भीलटदेव मेला समाप्त हुए लगभग 15 दिन हो गये है। लेकिन मेला प्रांगण की जनपद पंचायत द्वारा साफ सफाई नही किये जाने से यहां पड़ी गंदगी को खाने से गोवंश मर रहे है। जिनका अंतिम संस्कार भीलटदेव ग्राम के समाज सेवी अनिल यादव अपने साथियों के साथ कर रहे है। मेले मे प्रतिदिन हजारों की संख्या मे दर्शनार्थी भीलट बाबा के दर्शन करने और अपनी मन्नत पूरी करने आते थे। मेले मे हजारों दुकानदारो द्वारा अपनी अपनी दुकानों से व्यवसाय कर सामान विक्रय किया गया था।

जिसकी पूरी गंदगी अभी भी मेला ग्राउंड मे जस की तस फैली हुई है। जनपद पंचायत ने मेला समाप्ति के बाद अपने कर्तव्यो से इति श्री कर ली। जबकि मेला समाप्ति के बाद जनपद पंचायत द्वारा मेला ग्राउंड की सफाई कराना थी जो नही कराई गयी है। और अब इसी गंदगी को खाकर यहो गोवंश मरते जा रहे है।

भीलटदेव के समाजसेवी अनिल यादव ने बताया की अभी मेला प्रांगण मे लगभग 100 से अधिक आवारा मवेशी बैठें हुए है। जो सभी यहां पड़ी गंदगी खाकर उठ नही पा रहे है। मेला प्रांगण मे पोलोथिन पन्नी, सड़ा हुआ खाद्य पढ़ार्थ, कागज़ और कई तरह की गंदगी बिखरी पड़ी है। जिसे यह सब मवेशी खा रहे है।

इसमे से कितने मरेंगे कितने जिंदा रहेंगे कुछ कहा नही जा सकता। जो मवेशी मर रहे है हम उनका विधिवत अंतिम संस्कार करते जा रहे है। इस संबंध मे जनपद पंचायत के मेला प्रभारी विपिन तिवारी का कहना है कि मेला तो समाप्त हो गया है पर हर माल और मनिहारी दुकानदार अभी भी अपनी दुकान लगाकर मेला ग्राउंड मे दुकान लगाकर बैठे है ।इसलिए ग्राउंड की पूरी सफाई नही हो पायी है।

- Install Android App -

Don`t copy text!