ब्रेकिंग
हरदा हंडिया: नर्मदा नदी में गंगा दशमी स्नान करने गए दो युवक गहरे पानी में डूबे, एक की लाश पास में ही... हंडिया : मानव श्रृंखला बनाकर स्वच्छता की शपथ दिलाई हंडिया : हर हर गंगे व ‌नर्मदे हर के उद्घोष के साथ हजारों श्रद्धालुओं ने लगाई मां नर्मदा में आस्था की... Harda News: पिछले 24 घंटों में जिले में 12.9 मि.मी. औसत वर्षा हुई Harda News: रेडक्रास समिति के स्थायी सदस्यों की सूची प्रकाशित दावे आपत्ति 28 जून तक प्रस्तुत करें, 5... Harda News: मानव श्रृंखला बनाकर और शपथ दिलाकर की जल संरक्षण की अपील Dewas News : टेंकर को पलटता देख क्लीनर जान बचाने ट्रैक्टर से कूदा मगर गर्म डामर काल बनकर उस पर गिरा ... Police News : आधी रात को सड़क पर उतरी पुलिस 667 बदमाशों की करी धड़ पकड़ Gaon ki Beti Yojana 2024 : गांव की बेटियों की हुई मौज, बेटियों को अब मिलेंगे पुरे 5000 रूपए, ऐसे करे... Khategaon News: नर्मदा नदी के इस घाट पर टूरिस्‍ट ट्रेवलर बस से पहुंची खनिज विभाग की टीम 28 ट्रैक्टर ...

Ayushman Bharat Yojana 2024: पीएम मोदी ने किया ऐलान, अब बिना आयुष्मान के भी होगा मुफ्त उपचार, देखे पूरी जानकारी

आयुष्मान भारत योजना केंद्र सरकार द्वारा शुरू की गई एक बहुत ही महत्वपूर्ण योजना है। इस योजना के माध्यम से केंद्र सरकार द्वारा गरीब परिवार को मुफ्त उपचार सुविधा प्रदान की जा रही है। जिससे देश भर के करोड़ों नागरिक नि:शुल्क उपचार करा रहे हैं। आयुष्मान भारत योजना में गरीब परिवार की स्वास्थ्य संबंधी समस्याओं का समाधान किया है।

आयुष्मान भारत योजना के अंतर्गत भारत सरकार द्वारा पात्र नागरिकों के आयुष्मान कार्ड बनाए जाते हैं, जिन नागरिकों के पास आयुष्मान कार्ड उपलब्ध होता है, वह इस योजना के तहत सूचीबद्ध अस्पताल में जाकर सालाना ₹500000 तक का मुफ्त उपचार प्राप्त कर सकते है। आयुष्मान भारत योजना के तहत केंद्र सरकार द्वारा करीब 1300 से अधिक बीमारियों का निशुल्क उपचार किया जा रहा है। प्रति व्यक्ति सालाना ₹500000 तक का मुफ्त उपचार प्राप्त कर सकता है। परंतु इस योजना का लाभ प्राप्त करने के लिए आयुष्मान कार्ड होना अनिवार्य है।

आयुष्मान भारत योजना के तहत केंद्र सरकार द्वारा बनाए जाने वाले आयुष्मान कार्ड आप अपने नजदीक के कॉमन सर्विस सेंटर या फिर प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र जाकर बनवा सकते हैं। आयुष्मान कार्ड 24 घंटे के अंदर बन जाता है, परंतु आयुष्मान कार्ड बनवाने के लिए योजना के अंतर्गत सरकार द्वारा निर्धारित की गई जरूरी पात्रता का पालन करना अनिवार्य है। केवल पात्र नागरिक की अपना आयुष्मान कार्ड बनवा सकते हैं। योजना के अंतर्गत भारत सरकार द्वारा करीब 10 करोड़ परिवार के आयुष्मान कार्ड बनाने का लक्ष्य रखा गया है।

पीएम मोदी ने किया ऐलान –

आयुष्मान भारत योजना के तहत जैसा कि हमने आपको बताया केवल आयुष्मान कार्ड धारी नागरिक ही मुफ्त उपचार प्राप्त कर सकते हैं, परंतु हाल ही में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा एक जनसभा को संबोधित करते हुए यह ऐलान किया गया है, कि अब देश के 70 वर्ष से अधिक उम्र के सभी नागरिक चाहे योजना के तहत पात्र हो या नहीं आयुष्मान भारत योजना के अंतर्गत मुफ्त उपचार की सुविधा प्राप्त कर सकते हैं। इन नागरिकों के लिए केंद्र सरकार द्वारा आयुष्मान कार्ड की अनिवार्यता को खत्म कर दिया गया है। बिना आयुष्मान कार्ड के भी 70 वर्ष से अधिक उम्र के वृद्ध नागरिक नि:शुल्क उपचार सुविधा का लाभ प्राप्त कर सकते हैं।

आयुष्मान कार्ड क्या है ?

आयुष्मान भारत योजना भारत सरकार द्वारा शुरू की गई एक क्रांतिकारी पहल है जिसका उद्देश्य देश के गरीब और वंचित वर्गों को मुफ्त स्वास्थ्य बीमा प्रदान करना है। यह योजना 2018 में शुरू की गई थी और इसका लक्ष्य 10 करोड़ से अधिक परिवारों को कवर करना है, जो कि देश की लगभग 40% आबादी है। आयुष्मान कार्ड इस योजना का मुख्य घटक है। यह एक पहचान पत्र है जो लाभार्थियों को योजना के तहत लाभ प्राप्त करने का अधिकार देता है। कार्ड धारक सरकारी और निजी अस्पतालों के एक विशाल नेटवर्क में 5 लाख रुपये तक का मुफ्त इलाज प्राप्त कर सकते हैं।

पात्रता और आवश्यक दस्तावेज –

आयुष्मान भारत योजना के तहत मुफ्त स्वास्थ्य बीमा प्राप्त करने के लिए, आपको कुछ योग्यता मापदंडों को पूरा करना होगा:

1. निवास – आप भारत के स्थायी नागरिक होने चाहिए।

2. आय – आपकी वार्षिक पारिवारिक आय ₹1 लाख से अधिक नहीं होनी चाहिए। यदि आप बीपीएल (Below Poverty Line) श्रेणी में आते हैं, तो आप निश्चित रूप से पात्र हैं।

3. सामाजिक-आर्थिक-जातिगत जनगणना – यदि आपका परिवार सामाजिक, आर्थिक और जातिगत जनगणना (SECC) में शामिल है, तो आप आवेदन कर सकते हैं।

4. राष्ट्रीय खाद्य सुरक्षा अधिनियम – यदि आपको राष्ट्रीय खाद्य सुरक्षा अधिनियम (NFSA) के तहत लाभ मिल रहा है, तो आप भी पात्र हैं।

आयुष्मान कार्ड ऑनलाइन आवेदन के लिए आवश्यक दस्तावेज –

  • आधार कार्ड यह आपकी पहचान का मुख्य प्रमाण होगा।
  • राशन कार्ड यह आपकी आय और सामाजिक-आर्थिक स्थिति का प्रमाण होगा।
  • मोबाइल नंबर OTP प्राप्त करने और आवेदन स्थिति को ट्रैक करने के लिए।
  • बैंक पासबुक यदि आप ई-भुगतान के माध्यम से शुल्क जमा करना चाहते हैं।
  • पासपोर्ट आकार का फोटो आवेदन पत्र के साथ संलग्न करने के लिए।

ऑनलाइन आवेदन कैसे करें –

आयुष्मान भारत योजना के तहत मुफ्त स्वास्थ्य बीमा प्राप्त करने के लिए आयुष्मान कार्ड के लिए आवेदन करना एक सरल प्रक्रिया है। आप इसे ऑनलाइन या ऑफलाइन तरीके से कर सकते हैं।

यहां ऑनलाइन आवेदन करने की प्रक्रिया दी गई है –

1. आधिकारिक वेबसाइट पर जाएं ।

सबसे पहले, आपको आयुष्मान भारत योजना की आधिकारिक वेबसाइट https://bis.pmjay.gov.in/BIS/selfprintCard पर जाना होगा।

2. “बेनिफिशियरी लॉगिन” पर क्लिक करें ।

होमपेज पर, आपको “बेनिफिशियरी लॉगिन” नामक एक टैब दिखाई देगा। इस पर क्लिक करें।

3. अपना मोबाइल नंबर दर्ज करें और ओटीपी सत्यापित करें ।

- Install Android App -

एक नया पेज खुलेगा। यहां, आपको अपना आधार कार्ड से जुड़ा मोबाइल नंबर दर्ज करना होगा। फिर, आपको भेजे गए ओटीपी को दर्ज करके इसे सत्यापित करना होगा।

4. E-KYC के माध्यम से प्रमाणीकरण करें ।

“E-KYC” विकल्प पर क्लिक करें और प्रमाणीकरण प्रक्रिया पूरी करें।

5. सदस्य का चयन करें ।

उस सदस्य का चयन करें जिसके लिए आप आयुष्मान कार्ड बनाना चाहते हैं।

6. E-KYC और सेल्फी अपलोड करें ।

“E-KYC” आइकन पर क्लिक करें और लाइव फोटो के लिए कंप्यूटर कैमरा आइकन पर क्लिक करके सेल्फी अपलोड करें।

7. आवेदन फॉर्म भरें ।

“एडिशनल ऑप्शन” पर क्लिक करें और आवेदन पत्र में मांगी गई सभी जानकारी सही-सही भरें।

8. सबमिट करें ।

सभी विवरणों को ध्यान से जांचें और फिर “सबमिट” बटन पर क्लिक करें।

आवेदन स्वीकृति ।

यदि आपका आवेदन स्वीकृत हो जाता है, तो आपको 24 घंटे के अंदर एक पुष्टि संदेश प्राप्त होगा। आप अपना आयुष्मान कार्ड डाउनलोड भी कर सकते हैं। उम्मीद है आपको आज का यह आर्टिकल पसंद आया होगा और आज की यह जानकारी आपके लिए हेल्पफुल रही होगी।

Ladli Behna Yojana 2024: वंचित महिलाओं के लिए मध्य प्रदेश सरकार शुरू करेगी लाडली बहना योजना का तीसरा चरण, देखे पूरी जानकारी

Kisan New Yojana 2024: अब किसानों को सब्सिडी पर मिलेगा ट्रैक्टर, हरियाणा सरकार ने शुरू की योजना

Don`t copy text!