ब्रेकिंग
हरदा के युवक की लाश खंडवा जिले में रेलवे ट्रैक पर मिली, गुरु पूर्णिमा पर धुनि वाले दादा जी के दर्शन ... भारी बारिश से मप्र मे धंसा रेल्वे ट्रेक, मध्यप्रदेश महाराष्ट्र भारी बारिश का कहर आवागमन हुआ बाधित सिवनी मालवा: 11:15 तक मोरघाट माध्यमिक शाला में कोई शिक्षक नही आया विद्यार्थी दीवार कूद कर अंदर खड़े,... Harda news: अज्ञात युवक की लाश मिली ,कड़ोला नदी के पास पुलिस जांच में जुटी ! सावन के पहले सोमवार महाकालेश्वर मन्दिर मे भक्तों की भीड़,  रात 2:30 से खुले मन्दिर के पट मन्दिर प्रश... Aaj Ka Rashifal | राशिफल दिनांक 22 जुलाई 2024 | जानिए आज क्या कहते है आपके भाग्य के सितारे खरगोन बेड़ियां: महिला पर जानलेवा हमला करने वाले फरार आरोपी को बेड़िया पुलिस ने किया गिरफ्तार, भेजा जे... हंडिया : भगवान कुबेर की तपोभूमि पर गुरु आश्रमों में भक्ति भाव व श्रद्धा के साथ मनाया गया गुरु पूर्णि... सदबुद्धि यात्रा (हरदा ब्लास्ट पीड़ित द्वारा हरदा से हंडिया तक) अर्थ ग्रीन इनिशिटेटित के तहत किया गया वृक्षारोपण किया

प्रधानमंत्री जन औषधि केंद्र खोलकर कमाए हर महीने ₹50,000, यहां देखें पूरी जानकारी

भारत सरकार द्वारा प्रधानमंत्री जन औषधि योजना की शुरुआत की गई है। इस योजना की शुरुआत 1 जुलाई 2015 को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा की गई थी। योजना के अंतर्गत उच्च गुणवत्ता वाली जेनेरिक दवाइयां बाजार की कीमत से कम दामों पर आम जनता के लिए उपलब्धि की जा रही है। योजना के तहत भारत सरकार द्वारा हर एक शहर में एक जन औषधि केंद्र खोला जाएगा।

प्रधानमंत्री जन औषधि केंद्र पर बाजार कीमत से भी कम कीमत पर जेनेरिक दवाइयां उपलब्ध रहेगी। यह दवाइयां फार्मा या ब्रांडेड कंपनी की दवाई के मुकाबले बहुत ही ज्यादा सस्ती होंगी। पर उनकी क्वालिटी में किसी भी प्रकार की कमी नहीं की जाएगी तथा यह दोनों दवाइयां से कंपाउंड की भी होती हैं। आज इस आर्टिकल में आपको प्रधानमंत्री जन औषधि योजना के बारे में विस्तार से जानकारी प्रदान की जाएगी।

प्रधानमंत्री जन औषधि योजना के उद्देश्य –

भारत सरकार द्वारा योजना की शुरुआत मुख्य रूप से गरीब परिवार के लिए की गई है। इस परिवार जो महंगी दवाइयां का खर्च नहीं उठा सकते हैं। वह इस योजना के अंतर्गत भारत सरकार द्वारा उपलब्ध कराई गई जेनेरिक दवाइयां के माध्यम से अपना उपचार कर सकते हैं एवं कम कीमत पर दवाइयां प्राप्त कर सकते हैं। इस योजना में बाजार कीमत से लगभग 60 से 70% कम दामों पर दवाइयां उपलब्ध की जा रही है।

भारत सरकार द्वारा आम जनता के स्वास्थ्य को सुरक्षित करने एवं उच्च स्वास्थ्य सुविधा प्रदान करने के उद्देश्य से विभिन्न प्रकार की योजनाओं का संचालन किया जा रहा है। निशुल्क उपचार सुविधा के लिए भारत सरकार द्वारा आयुष्मान भारत योजना की शुरुआत की गई है। वहीं कम कीमत पर दवाइयां उपलब्ध कराने के लिए प्रधानमंत्री जन औषधि योजना की शुरुआत हो चुकी है।

प्रधानमंत्री जन औषधि योजना के लिए पात्रता –

1. प्रधानमंत्री जन औषधि योजना के लिए आवेदक भारत का मूल निवासी होना चाहिए।
2.. योजना का लाभ देश के सभी वर्ग के नागरिक प्राप्त कर सकते हैं।
3. आवेदक पहले किसी मेडिकल स्टोर में कार्यरत होना चाहिए।
4. आवेदक को दवाइयां की जानकारी होनी चाहिए।
5. आवेदन फार्म जमा करने वाले नागरिक की आयु 18 वर्ष से अधिक होनी चाहिए।
6. आवेदक के पास बी फार्मा या डी फार्मा की डिग्री होनी चाहिए।
7. अभी तक के पास प्रधानमंत्री जन औषधि केंद्र खोलने के लिए क्षेत्र उपलब्ध होना चाहिए।

प्रधानमंत्री जन औषधि केंद्र के लिए आवश्यक दस्तावेज –

1. आधार कार्ड
2. मूलनिवासी प्रमाण पत्र
3. मेडिकल दस्तावेज
4. बैंक पासबुक
5. शैक्षणिक योग्यता का दस्तावेज
6. बी फार्मा, डी फार्मा की डिग्री
7. मोबाइल नंबर
8. पासपोर्ट साइज फोटो

प्रधानमंत्री जन औषधि केंद्र के लिए रजिस्ट्रेशन प्रक्रिया –

- Install Android App -

1. सबसे पहले प्रधानमंत्री जन औषधि योजना की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा।
2. वेबसाइट के मुख्य पृष्ठ पर दिखाई दे रहे आप अप्लाई फॉर केंद्र वाले विकल्प पर क्लिक करना होगा।
3. अब आपके सामने रजिस्ट्रेशन फॉर्म खुलकर आ जाएगा।
4. रजिस्ट्रेशन फॉर्म में मांगी जा रही सभी जरूरी जानकारी को भरना होगा।
5. सभी जरूरी दस्तावेज को अपलोड करना होगा।
6. आखिर में सबमिट बटन पर क्लिक करके रजिस्ट्रेशन फॉर्म जमा करना होगा।

इस प्रकार आप योजना के अंतर्गत नए प्रधानमंत्री जन औषधि केंद्र खोलने के लिए रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं। रजिस्ट्रेशन पूरी प्रक्रिया पूरी हो जाने के बाद आप पात्रता अनुसार आधिकारिक वेबसाइट के माध्यम से आवेदन फार्म जमा कर जन औषधि केंद्र खोल सकते हैं और महीने की अच्छी आमदनी प्राप्त कर सकते हैं।

______________

यह भी पढ़े –

Don`t copy text!