ब्रेकिंग
Breking News : इंदौर की श्रद्धालुओ से भरी टूरिस्ट बस खड़े ट्राले से टकराई दो की मौत CG News : मानसिक रुप से विक्षिप्त व्यक्ति की दो लोगो ने डंडे से कि पिटाई हुई मौत Durg News : पुरानी रंजिश के चलते पार्किग ठेकेदार की चाकू मारकर हत्या MP News : मुरैना में रेत माफिया के विरोध में पहले कलेक्टर कार्यालय को घेरा फिर हाईवे पर प्रदर्शन Balaghat News : अनियंत्रित बस से सड़क से नीचे उतरी 25 से अधिक बराती हुए घायल हरदा जोशी कालोनी के रहवासी बिजली की समस्या से परेशान, बिजली फीडर कर्मचारी बोला मेरा काम सोने का है। ... तेंदू पत्ता की गड्डियां गिनवाते समय मधुमक्खियां का हमला 7 घायल, सिराल्या गांव का मामला नेमावर: कंटेनर ने कार को मारी टक्कर , दुर्घटना में एक की मौत, दो गंभीर रामनगर के पास की घटना Sivanimalwa: भीलटदेव मे मेले के बाद नही हुई सफाई गंदगी खाने से गोवंश की हो रही मौत ,प्रशासन का नहीं ... हरदा नपा CMO इंजीनियर ठेकेदार की साठगांठ से जमकर हो रहा भ्रष्टाचार, कांग्रेस ने पूर्व में की थी शिका...

बड़ी खबर म.प्र. : पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह और पूर्व मंत्री भूपेंद्र सिंह के खिलाफ जमानती वारंट, जाने क्या है मामला

मकड़ाई एक्सप्रेस 24 जबलपुर : कांग्रेस के राज्यसभा सदस्य वरिष्ठ अधिवक्ता विवेक कृष्ण तन्खा ने एमपीएमएलए कोर्ट जबलपुर में पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान, भाजपा प्रदेश अध्यक्ष वीडी शर्मा और पूर्व मंत्री भूपेंद्र सिंह के खिलाफ 10 करोड़ की मानहानि का परिवाद दायर किया था।शिकायत में कहा गया था कि सुप्रीम कोर्ट ने जब चुनाव के दौरान ओबीसी आरक्षण पर रोक लगा दी थी तो भाजपा नेताओ ने इसे गलत तरीके से पेश कर ओबीसी आरक्षण पर रोक का ठीकरा उनके सिर पर फोड़ दिया।

कोर्ट ने पूर्व मुख्यमंत्री प्रदेशाध्यक्ष मंत्री को जारी वारंट –

एमपीएमएलए स्पेशल कोर्ट में भाजपा के प्रदेशाध्यक्ष वीडी शर्मा, पूर्व सीएम शिवराज सिंह चौहान व पूर्व मंत्री भूपेंद्र सिंह के विरुद्ध जमानती वारंट जारी किया गया है। सात जून तक की हाजिरी माफी की मोहलत को घटाकर अब 7 मई तक कर दिया गया है। सुनवाई के दौरान पूर्व सीएम शिवराज, वीडी शर्मा व पूर्व मंत्री भूपेंद्र सिंह की ओर से अधिवक्ता श्याम विश्वकर्मा, जीएस ठाकुर, सुधीर नायक व उमेश पांडे ने पक्ष रखा।

यह है मामला – 

उल्लेखनीय है कि कांग्रेस के राज्यसभा सदस्य वरिष्ठ अधिवक्ता विवेक कृष्ण तन्खा ने एमपीएमएलए कोर्ट जबलपुर में पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान, भाजपा प्रदेश अध्यक्ष वीडी शर्मा और पूर्व मंत्री भूपेंद्र सिंह के खिलाफ 10 करोड़ की मानहानि का परिवाद दायर किया था। परिवाद में कहा गया था कि सुप्रीम कोर्ट में ओबीसी आरक्षण से संबंधित उन्होंने कोई बात नहीं कही थी। 

भाजपा नेताओं ने साजिश कर गलत ढंग से पेश किया –

- Install Android App -

विवेक कृष्ण  तन्खा ने बताया कि सुप्रीम कोर्ट ने चुनाव में ओबीसी आरक्षण पर रोक लगा दी तो भाजपा नेताओं ने साजिश करते हुए इसे गलत ढंग से पेश किया। पूर्व सीएम शिवराज, वीडी शर्मा और पूर्व मंत्री भूपेंद्र सिंह ने गलत बयान देकर ओबीसी आरक्षण पर रोक का ठीकरा उनके सिर पर फोड़ दिया। जिससे उनकी छवि धूमिल करके आपराधिक मानहानि की है। एमपी एमएलए विशेष कोर्ट ने 20 जनवरी को तीनों के विरुद्ध मानहानि का प्रकरण दर्ज करने के निर्देश दिए थे।

यह भी पढ़े –

Don`t copy text!